China

चीन ने अरुणाचल को बताया अपना हिस्सा, 5 भारतीय अगवा युवकों पर नहीं दिया कोई जवाब

नई दिल्लीः अरुणाचल प्रदेश से 5 भारतीय युवकों का अपहरण करने के सेना के सवाल पर चीनी प्रवक्ता ने जवाब दिया कि इस बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियन से जब इन युवकों के बारे में पूछा गया तो उसने भारतीयों के बारे में जानकारी देने की बजाय अरुणाचल प्रदेश को चीन का हिस्सा बता दिया। उन्होंने कहा कि भारतीय सेना के अनुरोध के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है।

G20

G-20 सदस्य देशों ने सभी के लिए शिक्षा निरंतरता तथा सुरक्षा सुनिश्चित करने की प्रतिबद्धता दुहराई

नई दिल्ली: जी 20 सदस्य देशों के शिक्षा मंत्रियों ने एक साथ मिल कर काम करने और शिक्षा के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रचलनों को साझा करने के प्रति संकल्प जाहिर किया है जिससे कि सदस्य देश संकट के समय में भी समवोशी और समान गुणवत्तापूर्ण शिक्षा सुनिश्चित कर सकें और सभी के लिए जीवन पर्यंत अध्ययन अवसरों को बढ़ावा दे सकें। संकट के समय में शिक्षा की निरंतरता, बाल्यावस्था शिक्षा एवं शिक्षा में अंतरराष्ट्रीयकरण के तीन चिन्हित क्षेत्रों पर चर्चा करने एवं सदस्य देशों के अनुभवों को साझा करने के लिए जी 20 सदस्य देशों के शिक्षा मंत्रियों की कल वर्चुअल रूप से एक बैठक आयोजित हुई। कल की बैठक इन विषय वस्तुओं पर वर्तमान में जारी चर्चाओं की परिणति थी जिसका आयोजन कोविड 19 महामारी के कारण वर्चुअल तरीके से किया गया।

Indian China

बैठक के बाद फेंगही ने दी चेतावनी, कहा- चीन अपनी एक इंच जमीन भी नहीं छोड़ेगा

नई दिल्लीः भारत और चीन में LAC विवाद पर को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह और चीनी रक्षा मंत्री वेई फेंगही के बीच रूस के मास्को में शुक्रवार को दो घंटे से अधिक बैठक चली। बैठक के तुरंत बाद चीन की ओर से एक बयान जारी किया गया। चीनी सरकार ने बयान में आरोप लगाया है कि लद्दाख में तनाव बढ़ाने के लिए भारत ‘पूरी तरह’ से जिम्मेदार है। साथ ही बयान में चेतावनी देते हुए कहा गया है कि ‘चीन अपनी एक इंच जमीन भी नहीं छोड़ेगा।’

Trump

ट्रम्प ने LAC पर स्थिति को ‘काफी खराब’ बताया, मध्यस्थता की पेशकश की

नई दिल्लीः भारत-चीन सीमा विवाद बढ़ता ही जा रहा है। इस बीच, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने शुक्रवार में कहा कि भारत-चीन सीमा पर स्थिति बहुत ही खराब है। ट्रम्प ने यह भी कहा कि वह इस मामले में मध्यस्थता करना पसंद करेंगे और दोनों परमाणु ऊर्जा देशों के बीच तनाव को कम करने में उनकी मदद करेंगे। उन्होंने कहा हम चीन और भारत के संबंध में मदद करने के लिए तैयार हैं और हम दोनों देशों से इस बारे में बात कर रहे हैं।

ChinaIndia

चीन की अकड़ ढीली, रक्षामंत्री से बातचीत की जताई इच्छा, मास्को में हो सकती है मीटिंग

नई दिल्लीः लद्दाख में जारी गतिरोध के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज चीनी रक्षा मंत्री वी फेंघी (Wei Fenghi) से मुलाकात कर सकते हैं। समाचार एजेंसी पीटीआई ने ट्वीट कर जानकारी दी है कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मॉस्को में चीनी रक्षा मंत्री के साथ शंघाई सहयोग संगठन (SCO) के एक मंत्रिस्तरीय बैठक के मौके पर बातचीत कर सकते हैं। हांलाकि ट्वीट में ये भी स्पष्ट लिखा है कि अभी तक इसकी कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।