Nepalparl

नेपाल के विपक्षी दल ने किया संसद को बाधित, 14 सांसदों के निलंबन की मांग

काठमांडूः नेपाल के पूर्व प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली के नेतृत्व में मुख्य विपक्षी सीपीएन-यूएमएल ने बुधवार को संसद के नए सत्र को बाधित किया और माधव कुमार नेपाल की पार्टी में शामिल हुए 14 सांसदों को निलंबित करने की मांग की। संसद के निचले सदन के नौवें सत्र को सीपीएन-यूएमएल (एकीकृत मार्क्सवादी-लेनिनवादी) द्वारा बाधित किए जाने के बाद पहले दिन दो बार कुछ समय के लिए स्थगित कर दिया गया था। पार्टी ने सीपीएन-यूएमएल के 14 पूर्व सांसदों को निलंबित करने की मांग को लेकर संसद की कार्यवाही बाधित की। इन सांसदों ने माधव कुमार नेपाल के नेतृत्व में एक नई पार्टी बनाई।

Taliban

दुनियाभर में आलोचना के बाद तालिबान ने सरकार में महिलाओं को शामिल करने का किया वादा

नई दिल्लीः तालिबान ने अफगानिस्तान पर कब्जे के बाद अपनी सरकार की घोषणा कर दी है। लेकिन उनके 33 सदस्यीय कैबिनेट दल में एक भी महिला शामिल नहीं है। अफगान सरकार में महिलाओं की अनुपस्थिति के लिए तालिबान को दुनिया भर में कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि सरकार गठन को लेकर असमंजस को देखते हुए तालिबान ने सरकार में महिलाओं को शामिल करने का वादा किया है। तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा कि आने वाले दिनों में महिलाओं को भी सरकार में शामिल किया जाएगा।

Afghan

प्रधानमंत्री वैश्विक आतंकी, गृहमंत्री मोस्ट वांटेड; कैसे मिलेगी तालिबान सरकार को मान्यता?

नई दिल्लीः तालिबान (Taliban) ने मंगलवार को एक अंतरिम सरकार के लिए 33 सदस्यीय टीम की घोषणा की, जिसका नेतृत्व मुल्ला मोहम्मद हसन अखुंद (Mullah Mohammad Hasan Akhund) करेंगे, जो आंदोलन के संस्थापक सदस्यों में से एक थे, जो समूह के पिछले 1996-2001 शासन में विदेश मंत्री और तत्कालीन उपप्रधान मंत्री भी रहे थे। समूह के सह-संस्थापक, मुल्ला अब्दुल गनी बरादर (Mullah Abdul Ghani Baradar) उनके डिप्टी होंगे।

Taliban

तालिबान ने पंजशीर घाटी पर कब्जे का दावा कियाः रिपोर्ट

नई दिल्लीः एएफपी की एक रिपोर्ट के अनुसार तालिबान ने कहा कि पंजशीर घाटी पर ‘पूरी तरह से कब्जा’ कर लिया गया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि तालिबान का विरोध करने वाले नार्दन एलायंस ने युद्ध के मैदान में बड़े नुकसान को स्वीकार किया है और युद्धविराम का आह्वान किया है।

Taliban

तालिबान के नेतृत्व वाली सरकार का गठन एक बार फिर स्थगित

नई दिल्लीः तालिबान ने अफगानिस्तान में एक नई सरकार के गठन को अगले सप्ताह के लिए स्थगित कर दिया है, उनके प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने शनिवार को कहा, क्योंकि विद्रोही समूह अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए स्वीकार्य व्यापक और समावेशी प्रशासन को आकार देने के लिए संघर्ष कर रहा है। विद्रोही समूह के शनिवार को काबुल में नई सरकार के गठन की घोषणा करने की उम्मीद थी, जिसका नेतृत्व संगठन के सह-संस्थापक मुल्ला अब्दुल गनी बरादर कर सकते हैं।