School

बिहार में स्कूल, कॉलेज 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खुलेंगे

पटनाः राज्यभर के स्कूलों, कॉलेजों, विश्वविद्यालयों, कोचिंग संस्थानों सहित शैक्षणिक संस्थानों कोविड महामारी के प्रकोप के बाद नौ महीने के अंतराल के बाद आज सोमवार से बिहार में फिर से खुलेंगे। हालांकि, कोविड-19 से छात्रों के बचाव को लेकर तमाम एहतियातें बरती जायेंगे और हर क्लास में 50 प्रतिशत विद्यार्थी ही मौजूद रहेंगे। बता दें कि राज्य में कोरोना वायरस के नए मामलों की कमी और 97.61 प्रतिशत की रिकवरी दर के कारण लगता है कि इससे शैक्षणिक संस्थानों में शारीरिक रूप से पढ़ाई फिर से शुरू करने का विश्वास बढ़ा है।

Nitish Kumar 4

खरमास खत्म होते ही होगा मंत्रिमंडल का विस्तार, जेडीयू-बीजेपी में सहमति बनी

पटनाः भले ही खरमास के महीने को किसी भी काम के लिए शुभ न माना जाता हो, लेकिन बिहार सरकार में इसी महीने में अहम फैसले लिए जाएंगे। बिहार में इस महीने में राजनीतिक सरगर्मियां काफी तेज हैं। खरमास के महीने में बिहार के मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर गतिरोध समाप्त हो गया है। जी न्यूज की रिर्पोट के अनुसान, जेडीयू और बीजेपी के बीच 50-50 के फार्मूले पर बात बन गयी है और खरमास यानि 14 जनवरी के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार किया जायेगा। इसके साथ ही राज्यपाल कोटे से मनोनीत होनेवाले 12 एमएलसी के नाम पर भी मुहर लग जायेगी। इसके साथ कमिटी, आयोग व जिला बीस सूत्री के खाली पदों को भी भर दिया जायेगा।

मंत्रिमंडल का विस्तार
17वीं विधानसभा चुनाव के बाद महज 15 लोगों के साथ सीएम नीतीश कुमार की नई मंत्रिमंडल ने शपथ ली थी। अभी उन्हें 21 और नए मंत्रियों को मंत्रिमंडल में लाना है। ऐसे में नए चेहरों पर फैसला इसी महीने में होगा, ताकि पुराने मंत्रियों से विभागों का भार कम किया जा सके।

राज्यपाल कोटे से विधान परिषद सदस्यों के मनोनीत होने की बात अटकी हुई है। अब इस पर फैसला इसी महीने में लेना होगा। क्योंकि बिना किसी सदन के सदस्य बने अशोक चैधरी और मुकेश सहनी मंत्रिमंडल में शामिल हुए हैं। नए एमएलसी के लिए चयन का काम इसी महीने में होना है।

सीएम नीतीश कुमार जदयू को नए सिरे मजबूत करना चाहते हैं। इसको लेकर पुराने मित्रों की तलाश कर रहे हैं। ऐसे पुराने साथियों में नरेंद्र सिंह, उपेंद्र कुशवाहा, अरुण कुमार, रेणु कुशवाहा सहित कई नेताओं को इकट्ठा किया जा रहा है। इन सबको एकसाथ लाकर खरमास के बाद उन्हें जदयू के साथ जोड़ा जाएगा।

हालांकि, नई सरकार के गठन के बाद ये माना जा रहा था कि विधानसभा में बहुमत साबित होने के बाद मंत्रिमंडल का विस्तार हो जायेगा। इसके संकेत बीजेपी और जेडीयू दोनों के नेताओं की ओर से मिल रहे थे, लेकिन 27 नवंबर को बहुमत साबित होने के बाद कयासों का सिलसिला शुरू हुआ। दिसंबर आते-आते गहराता गया और जब 14 दिसंबर से खरमास शुरू हुआ, तो साफ हो गया कि सरकार में शामिल मुख्य दलों जेडीयू और भाजपा के बीच सहमति नहीं बनी है। लेकिन ये कयास लगाए जा रहे हैं कि खरमास खत्म होते ही मंत्रीमंडल का विस्तार किया जाएगा।

ज्ञात हो कि 243 सदस्यों वाली बिहार विधानसभा में संख्या के हिसाब से 36 मंत्री बन सकते हैं। अभी सरकार में 14 मंत्री हैं, जिसके आधार पर माना जा रहा है कि विस्तार में 16 से 18 नए मंत्रियों को शामिल किया जा सकता है। मंत्रिमंडल विस्तार से सरकार के कामकाज में तेजी आयेगी, क्योंकि सरकार में शामिल तमाम मंत्रियों के पास कई विभागों का प्रभार है, जिससे वो सही तरीके से हर विभाग को नहीं देख पा रहे थे, लेकिन विस्तार के साथ ही विभागों का बंटवारा भी हो जायेगा।

Bihar

पटना में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज

पटनाः केन्द्र सरकार के 3 कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर के किसान राजधानी के आसपास प्रदर्शन पर बैठ है। दिल्ली के किसान आंदोलन का असर अब पूरे भारत में दिखाई दे रहा है। जगह-जगह किसान इस आंदोलन का हिस्सा बन रहे हैं। अब इसका असर बिहार में भी दिखाई देने लगा है। राज्य के अलग-अलग जिलों से आए किसानों ने नए कृषि कानूनों को रद्द करने की मांग करते हुए मंगलवार को राजभवन की ओर मार्च किया। अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति और अन्य लेफ्ट संगठनों के सदस्यों ने राजभवन मार्च आयोजित किया। पुलिस द्वारा किसानों को रोकन की कोशिश की गई, लेकिन किसान नहीं रूके। इस कारण पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा। पुलिस द्वारा लाठीचार्ज किए जाने से दर्जनों किसान घायल हो गए।  

Singh

जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार की जगह लेंगे पूर्व IAS अधिकारी आरसीपी सिंह

पटनाः जनता दल यूनाइटेड ;श्रक्न्द्ध के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद रामचंद्र प्रसाद सिंह को सौंपा जाएगा। आरसीपी सिंह वर्तमान में राज्यसभा में संसदीय दल के नेता हैं। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनके नाम का प्रस्ताव रखा, जिसका सभी ने समर्थन किया। हाल ही में सीएम नीतीश कुमार ने भी सिंह को राजनीतिक उत्तराधिकारी बनाने की बात की है। पटना में पार्टी कार्यालय में नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ बैठक के दौरान, नीतीश ने कहा कि आरसीपी सिंह उनके बाद सब कुछ देखेंगे।

Exam

बिहार बोर्ड ने जारी की 12वीं की डेटशीट और एडमिट कार्ड, 1 फरवरी से होंगे एग्जाम

पटनाः बिहार स्कूल एग्जामिनेशन बोर्ड (BSEB) ने बिहार इंटरमीडिएट (12वीं) बोर्ड परीक्षा 2021 के लिए आधिकारिक डेटशीट जारी कर दी है। बिहार में 12वीं के लिए बोर्ड परीक्षा 1 फरवरी, 2021 से शुरू होगी। बिहार की इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 दो पाली में आयोजित की जाएगी, यानी सुबह 9.30 बजे से दोपहर 12.45 बजे और दोपहर 1.45 बजे से शाम 5.00 बजे तक। बिहार बोर्ड लिखित परीक्षा 1 से 13 फरवरी 2021 तक होगी। बता दें कि पहले परीक्षा 2 फरवरी से शुरू होने वाली थीं, लेकिन अब बोर्ड की परीक्षाएं 1 फरवरी से शुरू होंगी।