लखीमपुर जिले में किसानों की समस्या का होगा समाधान

Jj1

लखीमपुरः आवश्यकतानुसार उन्नत मानक गुणों के सभी प्रकार के रासायनिक खाद की आपूर्ति का मुद्दा लखीमपुर जिले के कृषकों के लिए एक बहुत बरी समस्या थी लखीमपुर जिले के विभिन्न अंचल जैसे धकुवाखना, घिलामरा, बोगीनदी, बंगाल्मारा, बिहपुरिया, नारायणपुर, हारमती आदि अंचलों में कुछ व्यापारियों द्वारा  खाद का कृत्रिम अभाव दिखाकर घटिया स्तर का खाद ज्यादा दरों पर बेचे जाने की शिकायत आम बात थी।

लखीमपुर जिले के किसानों के लिए अच्छी खबर यह है कि जिले के कृषि अधिकारियों  के सहयोग से और असम के मुख्य मंत्री डॉ हिमंत विश्वशर्मा की तत्परता और संरक्षण में गत 19 सितम्बर को प्रथम बार के लिए रेल मार्ग से लाये जाने पर यूरिया खाद के अलावे अन्यान्य रासायनिक खाद IFFCO Urea Fertilizer Rake लखीमपुर रेलवे स्टेशन पर लादने और उतारने की व्यवस्था शुरू की गई है। इसके पूर्व केवल तिनसुकिया  जिले में खाद आती थी !इस सन्दर्भ में जिला उपायुक्त ने असम के मुख्य मंत्री से विस्तार से बातचीत कर मुख्य मंत्री की सदिच्छा और किसानों की सविधा के लिए इस कार्य को सफलतापूर्वक सम्पन्न किया !इससे लखीमपुर जिले के किसान लाभान्वित होंगे। किसान अब यूरिया खाद 5.91 रुपये प्रति किलो की दर से खरीद सकेंगे। लखीमपुर जिले को 1051 मैट्रिक टन खाद मिलेगा। अतीत में थोक व् खुदरा व्यापरियों को रासायनिक IFFCO Urea Fertilizer Rake तिनसुकिया से क्रय करना पड़ता था, जिसके लिए उन्हें अतिरिक्त मूल्य अदा करना होता था और किसानों को ज्यादा रुपये देकर खरीदना पड़ता था। इस कार्यक्रम के जरिये लखीमपुर में कृषि जात सामग्री के उत्पादन में प्रचुर परिमाण में वृद्धि होगी जिससे किसान को ज्यादा लाभ मिलेगा। बता दें कि रासायनिक खाद की समस्या जिले की पुरानी समस्या है, जिसके समाधान होने की आशा की जा सकती है।

Add comment


Security code
Refresh