Neet

Exam Pattern: आलोचना के बाद सरकार पुराने NEET-SS पैटर्न पर वापस जाने के लिए सहमत

नई दिल्लीः राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग और नेशनल बोर्ड फॉर एजुकेशन इन मेडिकल साइंसेज की तीखी आलोचना के बाद केंद्र सरकार पुराने पैटर्न पर जाने को सहमत हो गई और सुप्रीम कोर्ट को सूचित किया कि NEET-सुपर स्पेशियलिटी परीक्षाएं शैक्षणिक वर्ष 2021 के लिए पूर्ववर्ती पैटर्न के अनुसार होंगी। बदला हुआ पैटर्न 2022-23 सत्र से लागू होगा।

Kovind

अच्छा शिक्षक व्यक्तित्व-निर्माता, समाज-निर्माता और राष्ट्र-निर्माता होता है: राष्ट्रपति कोविन्द

नई दिल्ली: राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने कहा कि छात्रों की अंतर्निहित प्रतिभा के संयोजन की प्राथमिक जिम्मेदारी शिक्षकों की होती है; एक अच्छा शिक्षक व्यक्तित्व-निर्माता, समाज-निर्माता और राष्ट्र-निर्माता होता है। वह शिक्षक दिवस के अवसर पर आज (5 सितंबर, 2021) वर्चुअल पुरस्कार समारोह को संबोधित कर रहे थे। समारोह में देश भर के 44 शिक्षकों को राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

Sarvapalli

डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन का जन्मदिवस शिक्षक दिवस के रूप में क्यों मनाया जाता हैं?

नई दिल्लीः डॉ. राधाकृष्णन का जन्म 5 सितंबर, 1888 को हुआ था। 1963 में भारत के दूसरे राष्ट्रपति के रूप में उनकी नियुक्ति के बाद, उनके छात्रों और दोस्तों ने उनका जन्मदिन मनाने की योजना बनाई। हालांकि, डॉ राधाकृष्णन ने अपने छात्रों से 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाने के लिए कहा। फेस्टिवल ऑफ इंडिया की वेबसाइट के मुताबिक, उन्होंने कहा, ‘‘मेरा जन्मदिन अलग से मनाने के बजाय यह मेरे लिए गर्व की बात होगी कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के रूप में मनाया जाए।’’

IGNOU

‘इग्नू’ से ज्योतिष पाठ्यक्रम न हटाने के लिए हिन्दू जनजागृति समिति की राज्यपाल से भेंट

नई दिल्लीः ‘इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विद्यापीठ’ (इग्नू) में ज्योतिषशास्त्र विषय का पाठ्यक्रम समाविष्ट करने का कुछ तथाकथित आधुनिकतावादी और नास्तिक टोलियों द्वारा विरोध किए जाने की पृष्ठभूमि पर 4 सितंबर को हिन्दू जनजागृति समिति के शिष्टमंडल ने महाराष्ट्र राज्य के माननीय राज्यपाल और कुलपति माननीय भगतसिंह कोश्यारी से मुंबई के राजभवन में भेंट की । इस समय समिति के शिष्टमंडल की विस्तृत बात सुनकर महामहिम राज्यपाल ने ‘‘ज्योतिषशास्त्र केवल शास्त्र नहीं; विज्ञान है । पूरे विश्‍व में उसे पढाया जाता है । न्यायालय द्वारा ज्योतिषशास्त्र की सत्यता स्वीकारी जाने पर कौन उसका विरोध कर सकता है ? आप अपना कार्य आरंभ रखिए, मैं देखता हूं ।’’, ऐसा आश्‍वासन देकर ज्योतिषशास्त्र का पाठ्यक्रम सिखाने को समर्थन दर्शाया । इस समय हिन्दू जनजागृति समिति के राष्ट्रीय प्रवक्ता रमेश शिंदे, मुंबई प्रवक्ता डॉ. उदय धुरी, मुंबई समन्वयक बळवंत पाठक, गौड सारस्वत ब्राह्मण टेंपल ट्रस्ट के अध्यक्ष प्रवीण कानविंदे और शिवकार्य प्रतिष्ठान के संस्थापक अध्यक्ष प्रभाकर भोसले भी उपस्थित थे ।

Art

मदर सेवा संस्थान चबूतरा थियेटर पाठशाला में 5 दिवसीय आर्ट एंड क्राफ्ट कार्यशाला का शुभारंभ

लखनऊः मदर सेवा संस्थान चबूतरा थियेटर पाठशाला में पांच दिवसीय आर्ट एंड क्राफ्ट की निशुल्क कार्यशाला का शुभारंभ किया गया। इस कार्यशाला को लखनऊ की आर्ट कॉलेज से प्रशिक्षित ईशा शंखवार के निर्देशन में किया जा रहा है।  इसमें बच्चो को वेस्ट मैटेरियल से कलात्मक  वस्तु बनाने का प्रशिक्षण प्रदान किया  जा रहा है।