School

दिल्ली में 1 सितंबर से फिर से खुलेंगे स्कूल, केजरीवाल सरकार ने लिया फैसला

नई दिल्लीः राष्ट्रीय राजधानी में स्कूल चरणबद्ध तरीके से खोले जायेंगे। दिल्ली सरकार कक्षा 9 से 12 तक के छात्रों के लिए, 1 सितंबर से स्कूल फिर से खोलने की तैयारी कर रही है। कक्षा 6 से 8 के छात्रों के लिए 8 सितंबर से स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से खोला जाएगा। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) द्वारा स्थापित एक विशेषज्ञ समिति ने सितंबर में दिल्ली में स्कूलों को चरणबद्ध तरीके से फिर से खोलने की सिफारिश की थी।

PS

खूनी खेलः अवैध संबंधों के शक में बहू सहित 5 का कत्ल, आरोपी ने किया सरेंडर

नई दिल्लीः देश की राजधानी से सटे गुरुग्राम में एक दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। मकान मालिक ने अपनी बहु और किरायेदार के बीच अवैध संबंधों के शक में 5 लोगों का बेरहमी से कत्ल कर दिया। मरने वालों में दो महिलाएं, दो बच्‍चे और एक पुरुष बताया जा रहा है। वारदात को अंजाम देने के बाद मकान मालिक ने खुद ही थाने जाकर आत्मसमर्पण कर दिया और अपना गुनाह कबूल कर लिया।

Smog

Smog Tower प्रदूषण की लड़ाई में मील का पत्थर साबित होगाः केजरीवाल

नई दिल्लीः देश की राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के खिलाफ जंग जारी है। इस बीच सोमवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने इसमें एक नया अध्याय जोड़ दिया है। दिल्ली के दिल कहे जाने वाले कनाट प्लेस (Connaught Place) में देश का पहला स्मॉग टॉवर लगाया गया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को इसका उद्घाटन किया। यह स्मॉग टॉवर ब्लैक स्मॉल स्क्वायर अमेरिका से आयात नई तकनीक से बना है। ब्लैक स्मॉल स्क्वायर 24 मीटर ऊँचे टॉवर की क्षमता 1000 क्यूबिक मीटर/सेकण्ड है, तथा इससे 1 किलोमीटर तक की हवा  साफ होगी।

Waterlogging

दिल्ली में भारी बारिश से 13 साल का रिकार्ड टूटा, 'येलो अलर्ट' जारी

नई दिल्लीः भारत मौसम विज्ञान विभाग ;प्डक्द्ध ने शनिवार को कहा कि दिल्ली में 139 मिमी बारिश दर्ज की गई, जो कम से कम 13 वर्षों में अगस्त के मौसम में सबसे अधिक एक दिन की बारिश है, और शहर के लिए ‘ऑरेंज अलर्ट’ जारी किया है। अधिकारियों ने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हुई जिससे पारा नीचे आया और दिल्लीवासियों को कुछ राहत मिली है। आईएमडी ने रविवार के लिए येलो अलर्ट जारी किया है।

SC

सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को कोविड राहत मानदंड तैयार करने के लिए 4 सप्ताह दिए

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को कोविड-19 के कारण मरने वालों के परिजनों को मुआवजे के संबंध में दिशानिर्देश तैयार करने के लिए केंद्र के आवेदन को चार और सप्ताह के लिए मंजूर कर लिया। कोर्ट ने पहले जो डेडलाइन तय की थी वह 15 अगस्त थी। न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ और न्यायमूर्ति एम आर शाह की खंडपीठ ने केंद्र को 30 जून के आदेश में अदालत द्वारा निर्देशित अन्य मुद्दों पर उसके द्वारा उठाए गए कदमों पर एक हलफनामा दायर करने का निर्देश देते हुए राहत दी। इनमें मृत्यु प्रमाण पत्र पर दिशा-निर्देश तैयार करना, मृत्यु के सही कारण का उल्लेख करना और कोविड-19 के मद्देनजर सामाजिक सुरक्षा और कल्याणकारी उपायों के संबंध में ग्टवें वित्त आयोग की सिफारिशों पर उठाए गए कदम शामिल थे।