जेवर एयरपोर्ट से यूपी पहुंचेगा नई ऊंचाईयों पर, पीएम मोदी ने किया शिलान्यास

Up1

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री मोदी ने गुरुवार को ग्रेटर नोएडा के जेवर में दिल्ली-एनसीआर के दूसरे अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे शिलान्यास किया। इसके साथ ही पश्चिमी यूपी में भाजपा के चुनाव अभियान की भी शुरुआत भी हुई। इस अवसर पर पीएम मोदी ने यूपी को अंधेरे और अभाव में रखने के लिए पिछली सरकारों को आड़े हाथ लिया। दूसरी तरफ, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने भाषण में समाजवादी पार्टी और उनके मुख्य चुनावी प्रतिद्वंद्वी अखिलेश यादव पर निशाना साधा।

मोदी ने अपने भाषण में, बड़े मतदान को याद दिलाया कि हवाई अड्डे की कल्पना पहले भाजपा सरकार द्वारा की गई थी - जब राजनाथ सिंह मुख्यमंत्री थे - दो दशक पहले लेकिन दिल्ली और लखनऊ में लगातार सरकारों ने इस परियोजना को विफल कर दिया था। पश्चिमी यूपी भाजपा के लिए एक महत्वपूर्ण युद्धक्षेत्र है, क्योंकि तीन केंद्रीय कृषि कानूनों को लेकर क्षेत्र के किसानों के साथ उसका टकराव हुआ था, जिसे पिछले हफ्ते पीएम ने दिल्ली की सीमाओं पर किसानों के एक साल के धरने के विरोध के बाद निरस्त करने पर सहमति व्यक्त की थी।

पीएम मोदी ने कहा, “आजादी के सत्तर साल बाद, यूपी को वह चीजें मिलने लगी हैं, जिसके वह हमेशा हकदार थे। (ए) पहले यूपी सरकार (एसपी) ने एक पत्र (केंद्र को) लिखा था कि नोएडा हवाईअड्डा परियोजना को स्थगित कर दिया जाना चाहिए। हम 2017 में हवाई अड्डे की घोषणा कर सकते थे लेकिन वित्तीय बंद सहित इसके लिए आवश्यक तैयारी किए बिना ऐसा नहीं किया। अन्यथा, यह भी समाप्त हो जाता, जैसे कई अटकी हुई लागत वाली परियोजनाएं जो पिछली सरकारों की विरासत हैं।’’

पिछली सरकारों पर उत्तर प्रदेश को वंचित और अंधेरे में रखने का आरोप लगाते हुए, पीएम ने कहा कि कुछ राजनीतिक दलों ने हमेशा अपने स्वार्थ को सर्वाेपरि रखा है। मोदी ने कहा, ‘‘इन लोगों की सोच स्वार्थ, अपना और अपने परिवार की सोच है।’’

पीएम ने दिल्ली और लखनऊ में बीजेपी की ‘डबल इंजन’ सरकार को एक्सप्रेसवे, मेट्रो और समर्पित फ्रेट कॉरिडोर के नेटवर्क के माध्यम से यूपी में तेजी से बुनियादी ढांचे के विकास के लिए जिम्मेदार ठहराया। “पिछली सरकारें झूठे वादे करके और राज्य को उसका हक नहीं देकर यूपी को अंधेरे में रखती थीं। आज यूपी वैश्विक मंच पर अपनी छाप छोड़ रहा है।

मोदी ने कहा, “हमारे यूपी में बहुत काम हो रहा है। अब यूपी में बहुत विकास हो रहा है। यूपी का मतलब अब उत्तम सुविधा।” पश्चिमी यूपी में 2013 के सांप्रदायिक दंगों का जिक्र करते हुए आदित्यनाथ ने कहा, ‘‘आज देश को तय करना है कि वह यहां गन्ने की मिठास को नए पंख देना चाहता है या जिन्ना के अनुयायियों को दंगा भड़काने की शरारत करने देना चाहता है।’’

एक हालिया टिप्पणी के लिए अखिलेश पर कटाक्ष करते हुए जिसमें सपा नेता ने स्वतंत्रता संग्राम के बारे में बात करते हुए महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और सरदार पटेल के रूप में एक ही सांस में मोहम्मद अली जिन्ना का उल्लेख किया।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

Add comment


Security code
Refresh