दिल्ली में लगेगा लॉकडाउन? सीएम केजरीवाल और LG बैजल की मीटिंग आज

Kejriwal

नई दिल्लीः कोरोना वायरस महामारी अब दिल्ली में पैर पसारने लगी है। बता दें कि रविवार को राजधानी में 25,462 नए कोरोना पाॅजिटिव केस मिले हैं। अस्पतालों में वैक्सीन और ऑक्सीजन की कमी के बीच संक्रमण दर 30 फीसदी तक पहुंच गई है। अगर स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ो पर गौर किया जाए तो दूसरे राज्यों के मुकाबले दिल्ली में संक्रमण तेजी से फैल रहा है। हिन्दुस्तान के मुताबिक, दिल्ली में कोरोना से खतरनाक होते हालात पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल आज उपराज्यपाल अनिल बैजल और मुख्य सचिव विजय देव के साथ अहम बैठक करेंगे। बैठक के दौरान दिल्ली में कोरोना की स्थिति पर चर्चा के साथ ही साथ लॉकडाउन लगाने पर विचार भी हो सकता है।

ज्ञात हो कि रविवार को राजधानी में 25,462 नए कोरोना पाॅजिटिव केस सामने आए हैं। यह एक दिन में सामने आई अबतक की सबसे बड़ी संख्या है। वहीं इस अवधि के दौरान 161 लोगों की मौत हो गई है। दिल्ली में पॉजिटिविटी की दर बढ़कर 29.74 प्रतिशत हो गई है। राज्य में एक्टिव मरीजों की संख्या 74,941 पर पहुंच गई है। इससे पहले शनिवार को 24,375 नए मरीज मिले थे।

दूसरी तरफ, व्यापारिक संगठन कन्फेडेरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने कोरोना के बढ़ते मामालों को देखते हुए दिल्ली में 15 दिन की पूर्ण बंदी घोषित करने की मांग की है। इस संबंध में कैट ने दिल्ली के उपराजयपाल और मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है। कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया और प्रवीन खंडेलवाल ने कहा कोरोना महामारी का कहर देश भर में बहुत तेजी से बढ़ता जा रहा है। दिल्ली में यह जिस तेजी से बढ़ रहा है उसको देखते हुए तत्काल प्रभाव से पूर्ण बंदी जरूरी है। साथ ही सभी बॉर्डर पर कोरोना की जांच के सख्त इंतजाम किये जाएं, जिससे कोरोना की बढ़ती दर पर अंकुश लगाया जा सके। कैट ने कहा की इस कदम से निश्चित रूप से दिल्ली की व्यापारिक एवं आर्थिक गतिविधियां प्रभावित होंगी, लेकिन अब जान को प्रथम वरीयता पर रखना होगा।

बता दें कि बीते गुरुवार को सीएम केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के साथ बैठक में शहर के कोविड-19 हालात पर हुई चर्चा के बाद वीकेंड कर्फ्यू की घोषणा की है। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान मॉल, स्पा, जिम, ऑडिटोरियम आदि सब बंद रखने के निर्देश दिए। इसके अलावा बताया कि सिनेमा हॉल 30 प्रतिशत क्षमता के साथ चल सकेंगे। केजरीवाल ने एक साप्ताहिक बाजार को एक दिन में और एक जोन के हिसाब से अनुमति दी। साप्ताहिक बाजार में ज्यादा भीड़ न हो इसके लिए खास इंतजाम करने के निर्देश दिए। रेस्टोरेंट में बैठ कर खाने की इजाजत नहीं, केवल होम डिलीवरी की अनुमति है।

Add comment


Security code
Refresh