Delhi Budget 2021: AAP सरकार का बजट शिक्षा, स्वास्थ्य पर केन्द्रित

Budget

नई दिल्लीः उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने मंगलवार को राज्य विधानसभा में ‘आप’ सरकार का बजट 2021-22 पेश किया। 69,000 करोड़ रुपये के बजट का विषय देश भक्ति (देशभक्ति) था। सिसोदिया, जो वित्त विभाग रखते हैं, ने कहा कि उनकी सरकार 2047 तक 3.28 करोड़ की आबादी को पूरा करने के लिए बुनियादी ढांचे का निर्माण कर रही थी - दिल्ली की वर्तमान जनसंख्या 2 करोड़ है। सिसोदिया ने बजट पेश करते हुए कहा कि ‘आप’ सरकार ने आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने का फैसला किया है। इसके लिए वह 12 मार्च से 75 सप्ताह तक कार्यक्रमों का आयोजन करेगी।

उन्होंने कहा, “जब मैंने पिछले साल बजट पेश किया था, तो मुझे नहीं पता था कि हम एक महामारी से गुजरेंगे। सिसोदिया ने कहा कि लॉकडाउन और व्यवसायों पर इसका असर पड़ा, जिससे काम प्रभावित हुआ। महामारी के दौरान लोगों ने अपना कर्तव्य निभाया। उन्होंने दूसरों के साथ अपनी मुख्य जिम्मेदारियों को पूरा किया।”

सिसोदिया ने कहा कि सरकार की प्रस्तावित बजट खर्च के लिए 43,000 करोड़ रुपये कर एकत्र करने की योजना है। 2020-21 के बजट में, सरकार ने कर राजस्व के रूप में 44,100 करोड़ रुपये एकत्र करने का प्रस्ताव दिया था। हालांकि, महामारी के कारण, संग्रह लक्ष्य से नीचे रहने की उम्मीद है।

दिल्ली के सिसोदिया ने ऐलान किया कि ‘देशभक्ति बजट’ के तहत दिल्ली सरकार राजधानी में 500 स्थानों पर राष्ट्रीय ध्वज लहराने के लिए 45 करोड़ रुपये की लागत से ऊंचे ध्वज स्तम्भ लगाएगी। इसके साथ ही दिल्ली के स्कूलों में देशभक्ति की पढ़ाई के लिए ‘देशभक्ति पीरियड’ भी शुरू किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि ‘आप’ सरकार वर्ष 2047 तक दिल्ली की प्रति व्यक्ति आय को सिंगापुर की प्रति व्यक्ति आय के बराबर ले जाना चाहती है। सिसोदिया ने कहा कि 75वें सप्ताह के दौरान भगत सिंह की जीवनी पर आधारित कार्यक्रमों के लिए बजट में 10 करोड़ रुपये का आवंटन किया जाएगा। बजट भाषण के दौरान उन्होंने दिल्लीवालों के लिए मुफ्त कोरोना वैक्सीन के साथ ही महिलाओं के लिए 100 स्पेशल मोहल्ला क्लीनिक स्थापित करने का भी ऐलान किया।

दिल्ली के वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने ऐलान किया कि मैं 2021-22 के लिए दिल्ली के स्वास्थ्य क्षेत्र के लिए 9,934 करोड़ रुपये के बजट का प्रावधान करता हूं जो कुल बजट का 14 प्रतिशत है। दिल्ली सरकार ने निर्णय लिया है कि दिल्ली के लोगों को सरकारी अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन मुफ्त में लगाई जाएगी।

दिल्ली के सभी सरकारी अस्पतालों में दिल्लीवालों को कोरोना वैक्सीन फ्री मिलेगी। इसके लिए दिल्ली सरकार ने बजट में 50 करोड़ रुपये का प्रावधान किया।जल्द ही, प्रति दिन टीकाकरण 45,000 से बढ़कर 60,000 हो जाएगा।

दिल्ली के बजट में शिक्षा के लिए 16,377 करोड़ रुपये आवंटन किया गया है, जोकि कुल बजट का लगभग एक चैथाई है।

रू विधानसभा में दिल्ली के वित्त मंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि 2047 तक दिल्ली की आबादी करीब 3 करोड़ 28 लाख तक पहुंचने का अनुमान है। 2047 में इतनी बड़ी आबादी के लिए जो इंफ्रास्ट्रक्चर चाहिए होगा उसकी नींव हम इस बजट में रखने जा रहे हैं

मनीष सिसोदिया ने ऐलान किया कि आजादी के 75वें वर्ष पर दिल्ली सरकार अपने स्कूलों में पढ़ रहे हर बच्चे को देशभक्ति के रंग में रंगने के लिए देशभक्ति पाठक्रम की शुरुआत करने जा रही है। इसके तहत हर रोज एक कक्षा देशभक्ति की होगी।

मनीष सिसोदिया ने कहा कि अगले साल से दिल्ली के सभी इलाकों में महिला स्पेशल मोहल्ला क्लीनिक खोले जाएंगे।

विधानसभा में बजट घोषणा के दौरान मनीष सिसोदिया ने कहा कि दिल्ली में अपना पहला सैनिक स्कूल होगा, दिल्ली सशस्त्र बल की प्रारंभिक अकादमी के साथ, जहां नियमित अध्ययन के अलावा छात्रों को एनडीए की कोचिंग से भी परिचित होंगे।