Drug Case: शाहरूख खान के बेटे की जमानत अर्जी खारिज, 14 दिन रहेंगे जेल में

Aryankhan

मुम्बईः शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान (Aryan Khan) की जमानत अर्जी पर शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई हुई और जज ने उनकी जमानत अर्जी खारिज कर दी है। अब आर्यन खान को 14 दिन न्यायिक हिरासत में बिताने होंगे। उसे आर्थर जेल रोड में रहना होगा। फिलहाल आर्यन की जमानत अर्जी सेशन कोर्ट में दाखिल की जाएगी।

आर्यन खान की जमानत अर्जी पर सुनवाई करते हुए मजिस्ट्रेट ने कहा, ‘‘मैं रिमांड के आदेश में सुधार करूंगा। मैं एक तर्कपूर्ण आदेश दूंगा और उसके बाद ही मैं कोर्ट से बाहर निकलूंगा। मैंने सभी आवेदनों को सुन लिया है। आवेदन हमारे सामने विचारणीय नहीं हैं और इसलिए मैं इस जमानत आवेदन को अस्वीकार करता हूं।’’

अतिरिक्त सॉलिसिटर जनरल (ASG) अनिल सिंह शुरू से ही लगातार कह रहे थे कि इस मामले में मजिस्ट्रेट कोर्ट को जमानत का अधिकार नहीं है। हालांकि इस पर दिन भर बहस होती रही। सतीश मानशिंदे से लेकर तारक सईद और देशमुख जैसे वकीलों ने अपनी दलीलें दीं। लेकिन अदालत आखिरकार मान गई कि इस मामले में जमानत के लिए यह याचिका अदालत में चलने योग्य नहीं है। इसलिए यह जमानत सुनवाई योग्य नहीं है।

न्यायाधीश आरएल नेर्लिकर ने यह भी कहा कि उन्हें आदेश लिखने में घंटों लग सकते हैं। इसलिए वह ऑपरेटिव आदेश दे रहे हैं कि इस अदालत से जमानत नहीं ली जा सकती। इसलिए आप जमानत के लिए सेशन कोर्ट जाएं। कोर्ट में इस फैसले के पीछे बड़ा तर्क अरमान कोहली केस का जिक्र भी था। कोर्ट में एएसजी ने अरमान कोहली के मामले का हवाला दिया और कहा कि कोहली की जमानत अर्जी भी खारिज कर दी गई। तब भी ऐसा ही था। जैसे अरमान से नशीला पदार्थ नहीं मिला था, उसी प्रकार आर्यन से भी नशीला पदार्थ नहीं मिला। लेकिन फिर भी अदालत ने स्वीकार किया कि गिरफ्तार किए गए बाकी आरोपियों के पास से भारी मात्रा में मादक पदार्थ बरामद हुआ है।

अब आर्यन खान और बाकी आरोपियों के लिए मुश्किलें बढ़ सकती हैं। ऐसा इसलिए है क्योंकि सत्र न्यायालय में जमानत अर्जी दाखिल करने के बाद कानूनी प्रक्रिया में थोड़ा अधिक समय लग सकता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि याचिका दायर होने के बाद इसे एनसीबी को भेजा जाएगा। वहां से जवाब आने के बाद ही सुनवाई होगी। सुनवाई की तारीख मिलने में भी समय लग सकता है।

इस बीच अरबाज के वकील तारक सईद ने कहा कि वह शनिवार को सत्र अदालत में जमानत के लिए आवेदन करेंगे। हालांकि आर्यन खान के वकील सतीश मानशिंदे की तरफ से ऐसी कोई जानकारी नहीं आई है। फोर्ट कोर्ट से आदेश की कॉपी आने में रात 8 बजे तक का समय लग सकता है। ऐसे में उसके बाद ही सेशन कोर्ट में याचिका की तैयारी की जा सकती है। अब अगर आप शनिवार को भी सत्र न्यायालय में जमानत के लिए आवेदन करते हैं तो यह कहना मुश्किल है कि शनिवार को मामले की सुनवाई होगी या नहीं। एक और ध्यान देने वाली बात यह है कि अगल दिन रविवार की छुट्टी है। यानी उसके बाद सोमवार को ही कोई कार्रवाई की जा सकेगी।

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)