राज कुंद्रा पोर्नाेग्राफी मामले में शर्लिन चोपड़ा ने किया चौंकाने वाला खुलासा

Raj

मुम्बईः अभिनेत्री शर्लिन चोपड़ा उन गवाहों में से एक थीं, जिन्होंने राज कुंद्रा के मुंबई पुलिस को अश्लील सामग्री के उत्पादन और वितरण मामले में 1,500 पन्नों के पूरक आरोप पत्र में अपना बयान दिया था। पुलिस ने पोर्न रैकेट मामले में कारोबारी राज कुंद्रा और उसके साथियों को गिरफ्तार किया है। शर्लिन ने पहले पुलिस को बताया था कि राज और उसकी फर्म के क्रिएटिव डायरेक्टर मोबाइल एप्लिकेशन के लिए काम करने के लिए उसे पकड़ लेंगे। क्राइम ब्रांच के दस्तावेज़ में शर्लिन का बयान दर्ज किया गया था जिसमें उसने कहा था, ‘‘मैंने शर्लिन चोपड़ा ऐप बनाने के लिए आर्म्स प्राइम प्राइवेट लिमिटेड को काम पर रखा था। आर्म्स प्राइम के निर्देशक सौरभ कुशवाह और राज कुंद्रा थे।’’ अभिनेत्री ने यहां तक दावा किया कि राज ने उन्हें बताया कि ‘हॉटशॉट्स’ पर सामग्री ‘अधिक बोल्ड और हॉट’ होगी। उन्होंने आगे कहा कि राज ने उन्हें बेफिक्र होकर काम करने को कहा।

शर्लिन ने आगे खुलासा किया कि उनकी समझ के अनुसार, शर्लिन चोपड़ा ऐप से होने वाली आय को आर्म्स प्राइम प्राइवेट लिमिटेड और उसके बीच समान रूप से साझा किया जाना था। लेकिन उसे अपनी आय का हिस्सा कभी नहीं मिला। उसने कहा, ष्मुझे अपना 50 प्रतिशत हिस्सा कभी नहीं मिला। इसके बाद, राज कुंद्रा ने आर्म्स प्राइम प्राइवेट लिमिटेड की सहायक कंपनी हॉटशॉट्स ऐप के लिए काम करने के लिए मुझसे संपर्क किया। मुझे आश्वासन दिया गया कि हॉटशॉट्स के लिए काम करना बिल्कुल ठीक है। मुझे यह भी बताया गया कि ‘हॉटशॉट्स’ में बोल्ड कंटेंट और वीडियो होंगे। लेकिन हम रचनात्मक विचारों और सौदे के मौद्रिक पहलू पर एक समझौते पर नहीं आ सके, यही वजह है कि मैंने हॉटशॉट्स पर काम करने के लिए राज कुंद्रा के प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया। हॉटशॉट्स की क्रिएटिव डायरेक्टर मीता झुनझुनवाला ने मुझे भी उनके लिए काम करने के लिए मनाने की कोशिश की।

जल्द ही, अपराध शाखा ने आरोप पत्र दायर किया और राज के वकील ने मुंबई सत्र अदालत से अपनी जमानत याचिका वापस ले ली। पुलिस ने राज और उसके आईटी प्रमुख रयान थोर्प पर आईपीसी की विभिन्न धाराओं और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम और महिलाओं के अश्लील प्रतिनिधित्व (निषेध) अधिनियम 1986 की धाराओं के तहत आरोप लगाया है। हाल ही में, राज की पत्नी शिल्पा शेट्टी ने मामले में अपना बयान दर्ज किया और कहा, ‘‘कुंद्रा ने 2015 में वियान इंडस्ट्रीज लिमिटेड की शुरुआत की और मैं 2020 तक निदेशकों में से एक थी, जब मैंने व्यक्तिगत कारणों से इस्तीफा दे दिया। मुझे ‘हॉटशॉट्स’ या बॉलीफेम ऐप्स के बारे में जानकारी नहीं है। मैं अपने काम में बहुत व्यस्त थी और इसलिए मुझे इस बात की जानकारी नहीं थी कि कुंद्रा क्या कर रहे हैं। राज को जुलाई में अश्लील फिल्में बनाने और कुछ ऐप्स के जरिए प्रकाशित करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था।

(एजेंसी इनपुट के साथ)

Add comment


Security code
Refresh