तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं, मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ेगाः कंगना

Kangna

नई दिल्लीः बाॅलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के बीच की लड़ाई का अगला पड़ाव क्या होगा, ये तो किसी को नहीं पता। लेकिन कंगना को चारों तरफ से लोगों की सपोर्ट मिल रही है। अभी हाल ही में केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले मुंबई में कंगना रनौत के घर पहुंचे और उन्हें ढांढस बंधाया। इस मामले की शुरुआत से ही उनकी पार्टी आरपीआई कंगना के सपोर्ट में है। बीजेपी का पूरा सर्पोट कंगना को है। लेकिन फिर भी उद्धव ठाकरे उनको छोड़ने के मूड़ में नहीं दिखाई दे रहे। हालांकि कंगना ने भी ठान रखा है, चाहे कुछ भी हो जाए, लेकिन वह इस लड़ाई में पीछे हटने वाली नहीं हैं। हाल ही में उन्होंने ट्वीटर पर ट्वीट की झड़ी लगा उद्धव ठाकरे को निशाने पर लिया।

उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘‘मैं जानती हूं कि दोनों ने कुछ तोड़ा है, एक ने हिंदू के नरसंहार के प्रतीक को तोड़ा और दूसरी ने गुलामी, महिला सशक्तीकरण के प्रतीक को तोड़ा (जैसा कि मैं कम उम्र में अपना कार्यालय स्थापित करने वाली पहली अकेली महिला/अभिनेत्री हूं)।’’

KRtw1

कंगना ने लगातार ट्वीट कर उद्धव पर तंज कसा और कहा, ‘‘जिस विचारधारा पे श्री बाला साहेब ठाकरे ने शिवसेना का निर्माण किया था आज वो सत्ता के लिए उसी विचारधारा को बेचकर शिवसेना से सोनिया सेना बन चुके हैं, जिन गुंडों ने मेरे पीछे से मेरा घर तोड़ा, उनको सिविक बॉडी मत बोलो, संविधान का इतना बड़ा अपमान मत करो।’’

 

KRtt2
उन्होंने कहा, ‘‘तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुँह बंद करोगे, मगर मेरी आवाज मेरे बाद सौ फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुँह बंद करोगे? कितनी आवाजें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे। तुम कुछ नहीं हों, सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो।’’

KRtt1

कंगना ने कहा, ‘‘मैं इस बात को विशेष रूप से स्पष्ट करना चाहती हूँ कि महाराष्ट्र के लोग सरकार द्वारा की गयी गुंडागर्दी की निंदा करते हैं, मेरे मराठी शुभचिंतकों के बहुत फोन आ रहे हैं, दुनिया या हिमाचल में लोगों के दिल में जो दुःख हुआ है वो यह कतई न सोचें कि मुझे यहाँ प्रेम और सम्मान नहीं मिलता।

उन्होंने कहा, ‘‘मेरे कई मराठी दोस्त कल फोन पे रोए, कितनों ने मुझे सहायता हेतु कई सम्पर्क दिए, कुछ घर पे खाना भेज रहे थे, जो मैं सिक्यरिटी प्रोटोकॉल के चलते स्वीकार नहीं कर पायी। महाराष्ट्र सरकार की इस काली करतूत से दुनिया में मराठी संस्कृति और गौरव को ठेस नहीं पहुँचानी चाहिए। जय महाराष्ट्र 

कंगना ने किसी अनिल का ट्वीट शेयर किया, जिसमें लिखा है कि कैसे मुंबई धीरे-धीरे PoK बनता जा रहा है।
1. कंगना के कार्यालय को नष्ट कर दिया
2. समाचार संवाददाताओं को गिरफ्तार करना
3. कंगना के खिलाफ थ्प्त् दर्ज
4. पुलिस के सामने साधु मारे जाते हैं।
5. सरकार पर सवाल उठाने वाले लोगों को निशाना बनाना।

 

KRtw2

 

KRtw