भारत और भूटान के बीच पहली संयुक्त पनबिजली परियोजना की शुरुआत

SJayshankar

नई दिल्लीः विदेश मंत्री डॉ. एस. जयशंकर ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए भूटान में 600 मेगावाट के खलोंगछु जेवी-हाइड्रोइलेक्ट्रिक प्रोजेक्ट (Kholongchhu JV-Hydroelectric Project) के लिए कनशेंसन एग्रीमेंट (Concession Agreement) पर हस्ताक्षर किए। इससे भारत और भूटान के बीच संयुक्त उद्यम पनबिजली परियोजना निर्माण की शुरुआत  होगी।

एस. जयशंकर ने कहा, ‘‘यह भूटान में लागू होने वाली पहली संयुक्त उद्यम परियोजना है। मैं भूटान और सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड (SJVNL)  के ड्रुक ग्रीन पावर कॉर्पोरेशन (DGPC) को इस उपलब्धि के लिए बधाई देता हूं और आशा करता हूं कि वे इस परियोजना को पूरा करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।’’

Also read: सेना के साथ मुठभेड़ में एक जिला कमांडर और एक एचएम कमांडर मसूद सहित 3 आतंकी ढेर

JStw

Also read: कोरोना कहरः 24 घंटों में 19,459 नए केस, संक्रमितों की संख्या बढ़कर 5,48,318

विदेश मंत्री ने आगे कहा, ‘‘भूटान और भारत के बीच वास्तव में एक अनोखा रिश्ता है, जो इतिहास, भूगोल, संस्कृति, आध्यात्मिक परंपरा और सदियों पुराने लोगों के साथ बातचीत के लिए बाध्य है। हमारे साझा मूल्यों ने एक आम विश्व दृष्टिकोण को आकार दिया है।’’

Also read: कम्युनिस्ट नेता पर अंधाधुंध फायरिंग, हालत नाजुक

इस परियोजना के 2025 की दूसरी छमाही में पूरा होने की उम्मीद है। खोलोंगचू हाइड्रो एनर्जी लिमिटेड (Kholongchhu Hydro Energy Limited), भूटान के ड्रुक ग्रीन पावर कॉर्पोरेशन (DGPC) और सतलुज जल विद्युत निगम लिमिटेड (SJVNL) के बीच गठित एक संयुक्त उद्यम कंपनी है।

Also read: Grenade attack on stock market in Karachi, terrorists among 6 killed 

600 मेगावाट की रन-ऑफ-द-रिवर परियोजना पूर्वी भूटान में त्रिश्श्यांग्त्से जिले (Trashiyangtse District) में खलोंगछु नदी (Kholongchhu River) के निचले हिस्से पर स्थित है। इस परियोजना में 95 मीटर की ऊँचाई वाले कंक्रीट के बांध से घिरे पानी के साथ चार 150 मेगावाट टर्बाइन के भूमिगत बिजलीघर की परिकल्पना की गई है।

Also read: सात जिलों के एसपी बदले गए, अजय यादव संभालेंगे रायपुर की कमान 

एक प्रेस बयान में कहा ‘‘भारत सरकार के विदेश मंत्री एस. जयशंकर और भूटान की शाही सरकार के विदेश मंत्री ल्योनपो टांडी दोरजी की मौजूदगी में, थिमफू में 29 जून 2020 को भूटान की रॉयल सरकार और खोलोंगछु जलविद्युत परियोजना (संयुक्त उद्यम) के बीच 600 मेगावाट बिजली के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किए गए। 

 

 

 

#ForeignMinister #DrSJaishankar #ConcessionAgreementsigningceremony #600MWKhalongchhuJV-HydroelectricProject #Bhutan #throughvideoconference #jointventurehydroelectricproject #IndiaandBhutanwillbestarted

Add comment


Security code
Refresh