भारतीय सेना की टीम ने ब्रेकॉन, वेल्स (यूके) में आयोजित कैम्ब्रियन पेट्रोल अभ्यास में स्वर्ण पदक जीता

IMG 20211016 WA0035K2YH

नई दिल्ली: भारतीय सेना की 4/5 गोरखा राइफल्स (फ्रंटियर फोर्स) की एक टीम ने 13 से 15 अक्‍तूबर, 2021 तक ब्रिटेन के ब्रेकन, वेल्स में प्रतिष्ठित कैम्ब्रियन पेट्रोल अभ्यास में भारतीय सेना का प्रतिनिधित्व करते हुए स्वर्ण पदक हासिल किया। ब्रिटेन की सेना द्वारा आयोजित एक्स कैम्ब्रियन पेट्रोल को मानवीय सहनशक्ति, टीम भावना की महत्‍वपूर्ण परीक्षा माना जाता है और इसे कभी-कभी दुनियाभर की सेनाओं के बीच मिलिट्री पेट्रोलिंग के ओलंपिक के रूप में जाना जाता है।

भारतीय सैन्‍य दल ने इस आयोजन में भाग लेते हुए कुल 96 टीमों के खिलाफ प्रतिस्पर्धा की, जिसमें दुनिया भर से विशेष बलों और प्रतिष्ठित रेजिमेंटों का प्रतिनिधित्व करने वाली 17 अंतर्राष्ट्रीय टीमें शामिल थीं।

अभ्यास के दौरान, दुर्गम इलाकों और जबरदस्‍त ठंड के मौसम में इन सैन्‍य बलों के प्रदर्शन के लिए टीमों का मूल्यांकन किया गया था। अभ्‍यास के दौरान दुनिया की दुर्गम स्थितियों के अलावा विभिन्न चुनौतियों का सामना किया गया ताकि युद्ध की परिस्थितियों में उनकी प्रतिक्रियाओं का आकलन किया जा सके।

भारतीय सेना की टीम की सभी न्यायाधीशों ने विशेष रूप से उनके उत्कृष्ट नौवहन कौशल, पेट्रोल आदेशों को पूरा करने और समग्र शारीरिक सहनशक्ति के लिए भरपूर रूप से सराहना की।

ब्रिटिश सेना के चीफ ऑफ जनरल स्टाफ जनरल सर मार्क कार्लेटन-स्मिथ ने 15 अक्‍तूबर, 2021 को एक औपचारिक समारोह में टीम के सदस्यों को स्वर्ण पदक प्रदान किया।

इस वर्ष, 96 भाग लेने वाली टीमों में से, केवल तीन को ही अंतर्राष्ट्रीय पेट्रोलिंग दल के इस अभ्यास के छठे चरण तक स्वर्ण पदक से सम्मानित किया गया है।

Add comment


Security code
Refresh