Pratapgarh Accident: बारात से लौट रही बलेरो खड़े ट्रक में घुसी, 14 बारातियों की मौत

PA

लखनऊः उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में गुरुवार देर रात दर्दनाक सड़क हादसा हो गया। लखनऊ-प्रयागराज हाइवे पर तेज रफ्तार बेकाबू बलेरो खड़े ट्रक में जा घुसी। इस हादसे में 14 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। मरने वालों में पुरूष, औरतें और बच्चे भी शामिल हैं। बता दें कि कुंडा थाना क्षेत्र के चैंसा जिरगापुर निवासी संतलाल यादव के बेटे सुनील यादव की गुरुवार को शादी थी। बारात नवाबगंज थाना क्षेत्र के शेखपुर में गई थी। वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद देर रात बच्चों समेत 14 लोग बलेरो से अपने गांव लौट रहे थे। मानिकपुर थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार बोलेरो सड़क पर खड़े ट्रक में पीछे से घुस गई और ये दर्दनाक हादसा हो गया। हादसे के बाद घटनास्थल पर चीख-पुकार मच गई। हादसे की जानकारी मिलने के बाद पुलिस बल मौके पर पहुंचा।

प्रतापगढ़ के एसपी अनुराग आर्य ने हादसे की पुष्टि की है। एसपी अनुराग आर्य ने बोलेरो के ड्राइवर के झपकी आ जाने से हादसा होने की आशंका जताई है। उधर, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रतापगढ़ हादसे पर दुख जताया है। सीएम योगी ने वरिष्ठ अधिकारियों को मौके पर पहुंचने और पीड़ितों को हर संभव सहायता प्रदान करने का निर्देश दिया है।

जानकारी के मुताबिक प्रतापगढ़ जिले में नबाबगंज इलाके के शेखापुर से सभी बाराती बोलेरो से लौट रहे थे। गुरुवार रात करीब एक बजे लखनऊ-प्रयागराज हाइवे पर बारातियों की बोलेरो खड़े ट्रक में घुस गई। इस भीषण टक्कर के बाद बोलेरो में सवार 14 बारातियों की मौत हो गई। सूचना पर एसपी अनुराग आर्य पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और राहत-बचाव कार्य में जुट गए।

एसपी ने बताया कि सभी बराती कुंडा कोतवाली के जिर्गापुर के रहने वाले हैं। यह दहला देने वाला सड़क हादसा मानिकपुर थाना क्षेत्र के देशराज इनारा में हुआ। भीषण हादसे की जानकारी मिलने के बाद क्षेत्राधिकारी कुंडा कई थानों की फोर्स के साथ दुर्घटना स्थल पर पहुंचे। हादसा इतना भयंकर था कि गैस कटर की मदद से ट्रक में घुसी बोलेरो को काटकर कई मृतकों को निकालना पड़ा। मृतकों के शव पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिए गए हैं।

Add comment


Security code
Refresh