शपथ ग्रहण समारोह में अड़े AIMIM के विधायक, हिंदुस्तान बोलने पर जताई आपत्ति

Bihar

पटनाः 17वीं बिहार विधान सभा के पहले ही दिन शपथ ग्रहण समारोह के दौरान असदुउद्दी ओवैसी की पार्टी AIMIM के 5 विधायकों ने लिखे हुए शपथ पत्र पर आपत्ति जताई। विधायकों ने शपथ पत्र में लिखे हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति की और  हिंदुस्तान की जगह भारत बोलने पर अड़ गये। उनके इस तरह अड़ने पर नाराज होकर बीजेपी विधायक नीरज बबलू ने कहा, ‘‘जो हिंदुस्तान नहीं बोल सकते उन्हें पाकिस्तान चले जाना चाहिए।’’

बता दें कि बिहार विधानसभा में नवनिर्वाचित विधायकों को शपथ दिलाई जा रही है, लेकिन AIMIM पार्टी के विधायक शपथ के दौरान हिंदुस्तान शब्द के इस्तेमाल से परहेज कर सदन में अजीब सी स्थिति पैदा कर दी। इस दौरान, विधायक अख्तरुल इमान ने उर्दू भाषा में शपथ ली और इस दौरान हिंदुस्तान के बदले भारत शब्द का इस्तेमाल किया।

बाकी सभी नवनिर्वाचित विधायको ने शपथ पत्र पढ़ा, लेकिन जैसे ही अख्तरुल का नाम शपथ के लिए पुकारा गया, उन्होंने हिंदुस्तान शब्द पर आपत्ति जता दी। उन्हें उर्दू में शपथ लेनी थी। उन्होंने प्रोटेम स्पीकर जीतनराम मांझी से हिंदुस्तान के बदले भारत शब्द बोलने की अनुमति मांगी। उन्होंने कहा कि हिंदी भाषा में शपथ लेते वक्त भारत के संविधान शब्द का प्रयोग किया जाता है। मैथिली भाषा में भी यही शब्द आता है, लेकिन उर्दू में शपथ के लिए जो प्रपत्र दिया गया है, उसमें भारत के बदले हिंदुस्तान लिखा गया है। अख्तरुल ने कहा कि वह भारत के संविधान के नाम पर शपथ लेंगे, न कि हिंदुस्तान के संविधान के नाम पर।

बहरहाल, अख्तरुल की आपत्ति पर स्पीकर जीतनराम मांझी ने कहा कि ऐसा पहली बार नहीं हो रहा है। पहले भी उर्दू भाषा में शपथ के प्रपत्र में भारत की जगह हिंदुस्तान ही लिखा रहता था। दोनों नाम में शब्दों के अलावा और कोई फर्क भी नहीं है। मांझी के आग्रह का भी अख्तरुल पर कोई असर नहीं पड़ा और वह हिंदुस्तान के बदले भारत शब्द के उच्चारण पर ही अड़े रहे। बता दें कि विधानसभा के पहले दिन 122 विधायकों को शपथ दिलाई जानी थी और मंगलवार को दूसरे दिन 123 विधायकों को शपथ दिलाई जाएगी।

Add comment


Security code
Refresh