बिहार आता तो बच नहीं पाता, मध्य प्रदेश पुलिस को बधाई: डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे

Gp

पटनाः कानपुर में बिकरू गांव में हुए शूटआउट मामले में पुलिस को फरार अभियुक्त विकास दूबे आज उज्जैन में गिरफ्तार हो गया। इससे पहले, हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के बिहार में छिपे होने की खबरों पर राज्य के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने बड़ा बयान दिया था। डीजीपी  गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि यूपी के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों हत्या करके हिस्ट्रीशीटर विकास दूबे बिहार में घुस आएगा और यहां से सुरक्षित निकल जाएगा? यह कैसे हो सकता है? लेकिन आज उसके उज्जैन पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने मध्य प्रदेश पुलिस की प्रशंसा की और बधाई दी।

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने न्यूज एजेंसी एएनआई को कहा, ‘‘मैं विकास दुबे की गिरफ्तारी पर मध्य प्रदेश पुलिस को सलाम करता हूं और बधाई देता हूं। हम भी अलर्ट पर थे। अगर वह यहां आया होता, तो हम भी उसे पकड़ लेते। वह बिहार नहीं आया क्योंकि मैंने कहा था कि अगर वह यहाँ आता है, तो वह बच नहीं पाता।’’ 

GPtw

आपको बता दें कि सीओ समेत 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर फरार चल रहे मुख्य आरोपी विकास दुबे पर अब इनाम की राशि बढ़ाकर 5 लाख रुपए कर दी गई थी। इस हत्याकांड को अंजाम देकर फरार चल रहे विकास दुबे की गिरफ्तारी पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम नहीं थी। 40 थानों की फोर्स, क्राइम ब्रांच और एसटीएफ की टीम चप्पे-चप्पे पर उसकी तलाश में लगी थी। बावजूद इसके लगभग सप्ताह बाद वो पुलिस के हत्थे चढ़ा है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है।