Gp

बिहार आता तो बच नहीं पाता, मध्य प्रदेश पुलिस को बधाई: डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे

पटनाः कानपुर में बिकरू गांव में हुए शूटआउट मामले में पुलिस को फरार अभियुक्त विकास दूबे आज उज्जैन में गिरफ्तार हो गया। इससे पहले, हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के बिहार में छिपे होने की खबरों पर राज्य के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने बड़ा बयान दिया था। डीजीपी  गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि यूपी के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों हत्या करके हिस्ट्रीशीटर विकास दूबे बिहार में घुस आएगा और यहां से सुरक्षित निकल जाएगा? यह कैसे हो सकता है? लेकिन आज उसके उज्जैन पुलिस द्वारा पकड़े जाने पर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने मध्य प्रदेश पुलिस की प्रशंसा की और बधाई दी।

Gupt

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे को दी चुनौती

पटनाः कानपुर में बिकरू गांव में हुए शूटआउट मामले में पुलिस को फरार अभियुक्त विकास दूबे की सरगर्मी से तलाश जारी है। पुलिस लगातार अपना शिकंजा कसती जा रही है। इसी बीच हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के बिहार में छिपे होने की खबरों पर राज्य के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे ने मंगलवार को बड़ा बयान दिया है। डीजीपी  गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि यूपी के कानपुर में 8 पुलिसकर्मियों हत्या करके हिस्ट्रीशीटर विकास दूबे बिहार में घुस आएगा और यहां से सुरक्षित निकल जाएगा? यह कैसे हो सकता है?

Nepalborder

नेपाल की धमकीः तटबंध नहीं हटाया तो तोड़ देंगे, बिहार में बाढ़ का खतरा बढ़ा

पटनाः नेपाल बिहार बार्डर पर अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। पहले उसने सुस्ता क्षेत्र पर कब्जा कर लिया और यहां तक की उसने भारतीयों के वहां जाने पर भी रोक लगा दी। इलाके में 7,100 एकड़ जमीन पर नेपाल के साथ पुराना विवाद है। अब उसने सुस्ता के साथ लगे नरसही जंगल पर भी दावा ठोक दिया। नेपाल आर्म्ड फोर्स ने यहां कैंप बना लिया है।

Patna

दिनदहाड़े गोली मारकर 15 लाख की लूट, अपराधियों ने की हवाई फायरिंग

पटनाः बिहार को अपराध नगरी कहा जाए जो गलत नहीं होगा। प्रदेश में आए दिन कोई न कोई घटना होती ही रहती है। क्षेत्र में अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा है। अपराधी बेखौफ होकर घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। आम आदमी की तो बात ही क्या, अपराधी पुलिस को भी नहीं छोड़ रहे हैं। 

जागरण के हवाले से हाल की घटनाएं पटना और गोपालगंज की हैं। सोमवार को दिनदहाड़े पटना में बदमाशों ने दाल कारोबारी को गोली मारकर 15 लाख रुपये लूट लिये। उधर, गोपालगंज में भी कुछ बदमाशों ने डराने के मकसद से हवा में कई फायर किए। आपको यहां बता दें कि दो दिन पहले भी भागलपुर में बालू माफिया ने पुलिस पर हमला किया था। 

Rationcard

Bihar ration scam: सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर निकाली भड़ास

पटनाः कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए जारी लॉकडाउन के कारण देशभर में लाखों-करोड़ों लोग प्रभावित हुए। इन प्रभावित लोगों को खाद्य आपूर्ति के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मुफ्त राशन देने की घोषणा की। इस घोषणा के बाद बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री के इस कदम के लिए ट्वीट कर उनका आभार व्यक्त किया। फिर क्या था, मुख्यमंत्री के इस ट्वीट के बाद अपनी भड़ास निकलने के लिए राशन घोटाले के पीड़ितों को जैसे एक मंच मिल गया। नीतीश कुमार के इस ट्वीट के जवाब में राजेश कुमार मिश्रा ने उन्हें ‘कुर्सी कुमार’ से सम्बोधित करते हुए और इसे चुनाव प्रचार से जोड़ते हुए लिखा की लॉकडाउन के दौरान सभी का राशन कार्ड बनवाने का वादा आज तक पूरा नहीं हुआ। वहीं कलिल देव यादव ने लिखा ‘जुमलों का बौछार है क्या, पता करो नवंबर में चुनाव है क्या?’