सुशांत केसः 25 फरवरी को बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उसकी जान खतरेः केके सिंह

Kksingh

नई दिल्लीः सुशांत राजपूत केस में नित नये खुलासे हो रहे हैं। हाल ही में उनके पिता ने ट्वीटर पर एक वीडिया शेयर किया है, जो तेजी से वायरल हो रहा है। उस वीडियो में उन्होंने कहा कि मैंने 25 फरवरी को ही बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उसकी जान खतरे में है। आखिरकार 14 जून को उसकी मौत हो गई।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एक वीडियो में सुशांतसिंह राजपूत के पिता कहते हैं, ‘‘25 फरवरी को, मैंने बांद्रा पुलिस को सूचित किया कि वह खतरे में है। 14 जून को उसकी मृत्यु हो गई और मैंने उन्हें अपनी 25 फरवरी की शिकायत में नामित लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा। उनकी मृत्यु के 40 दिनों बाद तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसलिए मैंने पटना में एफआईआर दर्ज कराई।‘‘

Please See Video Link of Viral Video:

KKtw

उन्होंने वीडिया में बताया कि एफआईआर दर्ज करवाते ही पटना पुलिस हरकत में आ गई, लेकिन तब तक मुजरिम फरार हो गए थे। सबको चाहिए कि पटना पुलिस को मदद करें। उन्होंने कहा कि मैं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उनके सहयोगी मंत्री संजय झा जी का आभार व्यक्त करता हूं कि उन्होंने सच का साथ दिया।

आपको बता दें कि मामले की जांच को लेकर बिहार और महाराष्ट्र सरकार में खींचतान जारी है। मामले की जांच के लिए बिहार से मुंबई पहुंचे आईपीएस अधिकारी को क्वारंटाइन करने के बाद से मामला और बिगड़ गया है। बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडे्य ने कहा कि बिहार पुलिस बीएमसी कमिश्नर को विरोध पत्र भेजेगी. ये प्रोटेस्ट लेटर आईजी पटना भेजेंगे।

उन्होंने कहा कि हमने केंद्र सरकार की क्वारंटीन गाइडलाइन को पढ़ा है। उसके मुताबिक हमारे अधिकरी ने कहीं भी नियम का उल्लंघन नहीं किया है। हमारे अधिकारी सूचना देकर गए हैं। हमारे अधिकरी को क्वारंटीन करने के कारण हमारी जांच प्रभावित हुई है। हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार कर रहे हैं। पांडेय ने कहा, ‘‘हमारे दूसरे 4 अधिकरियों को भी क्वारंटीन करने के लिए खोज की जा रही है। पटना पुलिस से भी मुंबई पुलिस ने लोकेशन मांगा है।’’

दूसरी तरफ अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस के मामले में मुंबई के पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने सोमवार को बड़ा बयान देते हुए कहा कि बिहार पुलिस को जांच का अधिकार नहीं है। सिंह ने कहा कि हमारी जांच सही दिशा में है. उन्होंने सुशांत सिंह केस से जुड़े कई बड़े खुलासे अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस में किए। 

सिंह ने कहा कि कुछ फाइनेंशियल एंगल के बारे में भी हमने पढ़ा था. बिहार पुलिस के एफआईआर में भी लिखा है। सिंह ने कहा कि सुशांत के खातों की जांच और उनके सीए से पूछताछ में अब तक पता चला है कि उनके अकाउंट में कुल तकरीबन 18 करोड़ रुपये थे, जिसमें से चार, साढ़े चार करोड़ रुपए अभी भी उनके अकाउंट में एफडी वगैरह में हैं। बाकी के 13-13.5 करोड़ रुपए जो खर्च हुए हैं, उसकी जांच चल रही है। अब तक की जांच से ऐसा लग रहा है कि ये पैसे रिया चक्रवर्ती को सीधे ट्रांसफर नहीं हुए हैं।

Add comment


Security code
Refresh