Itanagar

अरूणाचलः 3 अगस्त से लाॅकडाउन खत्म, नए दिशानिर्देश के साथ खुलेंगी दुकानें

ईटानगरः डिप्टी कमिश्नर कैपिटल कॉम्प्लेक्स कोमकर दुलोम ने सूचित किया है कि  3 अगस्त से ईटानगर कैपिटल रीजन (आईसीआर) में लॉकडाउन नहीं होगा। सभी दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान खुलेंगे, लेकिन नए दिशानिर्देशों के तहत। आईसीआर क्षेत्र में वैकल्पिक दिनों पर दुकानें खुलेंगी। राष्ट्रीय राजमार्ग-415 के दोनों ओर स्थित दुकानों और व्यासायिक प्रतिष्ठानों को भी विनियमित किया गया है। आॅड-ईवन बेसिस पर एक तरफ एक दिन खुलेगा, जबकि दूसरे दिन दूसरे तरफ खुलेगा, जो सड़क पर भीड़ और यातायात को कम करने में मदद करेगा। 

Kksingh

सुशांत केसः 25 फरवरी को बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उसकी जान खतरेः केके सिंह

नई दिल्लीः सुशांत राजपूत केस में नित नये खुलासे हो रहे हैं। हाल ही में उनके पिता ने ट्वीटर पर एक वीडिया शेयर किया है, जो तेजी से वायरल हो रहा है। उस वीडियो में उन्होंने कहा कि मैंने 25 फरवरी को ही बांद्रा पुलिस को सूचित किया था कि उसकी जान खतरे में है। आखिरकार 14 जून को उसकी मौत हो गई।

न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक, एक वीडियो में सुशांतसिंह राजपूत के पिता कहते हैं, ‘‘25 फरवरी को, मैंने बांद्रा पुलिस को सूचित किया कि वह खतरे में है। 14 जून को उसकी मृत्यु हो गई और मैंने उन्हें अपनी 25 फरवरी की शिकायत में नामित लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिए कहा। उनकी मृत्यु के 40 दिनों बाद तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसलिए मैंने पटना में एफआईआर दर्ज कराई।‘‘

Liquor

पंजाबः जहरीली शराब ने ली 86 लोगों की जान, मजिस्ट्रियल जांच के आदेश

चंडीगढ़ः जहरीली शराब पीने से अब तक पंजाब के तीन जिलों तरनतारन, अमृतसर और गुरदासपुर में 86 लोगों की मौत हो चुकी है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मृतकों के परिवारों को 2-2 लाख रुपये के मुआवजे की घोषणा की है। पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने जहरीली शराब से हुई मौतों पर डिवीजनल कमिश्नर, जालंधर द्वारा मजिस्ट्रियल जांच के आदेश दिए। दूसरी तरफ, दिल्ली के सीएम ने सीबीआई से जांच कराने की मांग की है।

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘अवैध शराब के कारण पंजाब में जानमाल के नुकसान से दुखी सरकार को ऐसे माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए तुरंत आवश्यक कदम उठाने की जरूरत है। इस मामले को तुरंत सीबीआई को सौंप दिया जाना चाहिए क्योंकि पिछले कुछ महीनों से अवैध शराब के मामलों में से कोई भी स्थानीय पुलिस द्वारा हल नहीं किया गया है।’’ 

Golgappa

नाबालिग ‘गोलगप्पा गर्ल’ आशिक के संग हुई फरार, पुलिस तलाश में

नई दिल्लीः उत्तर प्रदेश के मीरजापुर जिले में एक ऐसा मामला सामने आया, जिसने लोगों को बता दिया कि ‘दिल दिवाना होता है।’ जी हां, ये मामला ही कुछ ऐसा है। दरअसल हुआ ये कि एक लड़की को गोलगप्पे बहुत पसंद थे, लेकिन गोलगप्पे खाते-खाते वो अपना दिल भी गोलगप्पे वाले को दे बैठी। गोलगप्पे आखिर किसको पसंद नहीं, मगर इस मामले में गोलगप्पे का तीखा और मीठा पानी इस लड़की के सिर ऐसा चढ़ा कि वो गोलगप्पे वाले के साथ फरार हो गई। लेकिन लड़की के नाबालिग होने की वजह से इस मामले में पेंच फंस गया है। लड़की के घरवालों को जैसे ही पता चला कि उनकी लड़की एक गोलगप्पे वाले के साथ भाग गई है, तो उनके पैरों तले जमीन ही खिसक गई।