3rd Test: सिडनी में सांस रोक देने वाला मैच, भारत ने खेला ड्रा, अश्विन-विहारी बने ऑस्ट्रेलिया के सामने दीवार

Match

नई दिल्लीः ऑस्ट्रेलिया के सिडनी क्रिकेट ग्राउंड पर एक शानदार मैच का अंत ड्रा के साथ हुआ। इस मैच में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया। एक समय ऐसा लग रहा था कि ऑस्ट्रेलिया इस मैच को जीतकर सीरीज में अजय बढ़त बना लेगा। लेकिन टीम इंडिया के बल्लेबाजों ने इस बार शानदार प्रदर्शन से मैच को ड्रा करवा दिया। कप्तान रहाणे को छोड़कर सभी बल्लेबाजों ने शानदार बल्लेबाजी की। इसमें हनुमा विहारी और आर अश्विन ने पूरे 43 ओवर बल्लेबाजी की। ऋषभ पंत और हनुमा विहारी ने चोट के बावजूद भी ऑस्ट्रेलिया अटैक का डटकर मुकाबला किया और भारत को तीसरा टेस्ट ड्रॉ कराने में मदद की। श्रृंखला 1-1 से बराबरी पर है।

आज भारत के खिलाड़ियों में गज़ब का आत्मविश्वास देखने को मिला। चाहे वो चेतेश्वर पुजारा, ऋषभ पंत, हनुमा विहार हों या रविचन्द्रन अश्विन हो। सबने मिलकर ऑस्ट्रेलिया को हराया तो नहीं, लेकिन जिस तरह से इस मैच और सीरीज को जिंदा रखा, वो अविश्वसनीय रहा। विवादों से घिरे सिडनी टेस्ट मैच में इस ड्रॉ में भी भारत की जीत छुपी है।

Tw1

407 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी टीम इंडिया को रोहित शर्मा (52) ने बेहतरीन शुरुआत दी और इसके बाद ऋषभ पंत और चेतेश्वर पुजारा ने भारत की जीत की उम्मीदें जगा दी। पुजारा और ऋषभ पंत ने मिलकर 148 रनों की पार्टनरशिप की थी, लेकिन ऋषभ पंत महज तीन रन से अपने तीसरे टेस्ट शतक से चूक गए, जबकि पुजारा 77 रन बनाकर हेजलवुड की गेंद पर बोल्ड हो गए। उसके बाद टीम इंडिया की जीत की उम्मीद धूमिल हो गई। इसके बाद अश्विन और हनुमा विहारी ने मिलकर मैच ड्रॉ करा दिया। टीम इंडिया ने 5 विकेट खोकर 334 रन बनाए। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज आज विकेट लेने के लिए तरस गए। मैदान पर उनकी निराशा साफ झलक रही थी।
सिडनी में मैच के 5वें दिन किसी ने सोचा नहीं था कि 407 रन के टारगेट का पीछा करते हुए टीम इंडिया इस तरह का जज्बा दिखाएगी। यह मैच तो ड्रॉ हो गया, लेकिन सीरीज अब भी 1-1 से बराबरी पर है। सिडनी टेस्ट ड्रॉ होने के बाद अब सीरीज का फैसला ब्रिसबेन में होगा जहां दोनों टीमें चैथे और अंतिम टेस्ट में 15 जनवरी से आमने सामने होंगी।

आखिरी बार भारत ने विराट कोहली की कप्तानी में यहां 3-7 जनवरी 2019 में टेस्ट मैच ड्रॉ कराया था। भारत टेस्ट सीरीज में दबावमुक्त है। ऐसे में भारत अगर ब्रिस्बेन में चैथा टेस्ट जीत लेता है, तो वह ऑस्ट्रेलिया की धरती पर दूसरी बार टेस्ट सीरीज में जीत दर्ज करेगा।

Tw3

Tw2

Add comment


Security code
Refresh