रिषभ पंत ने रचा इतिहास, दिखाया दमदार खेल

Pant

नई दिल्लीः सिडनी में खेले जा रहे चैथे टेस्ट मैच ड्रा की ओर बढ़ रहा है, लेकिन इससे पहले भारतीय टीम के विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने एक ऐसा रिकार्ड बना दिया, जो पहले किसी भी भारतीय विकेटकीपर ने नहीं किया। रिषभ पंत भारत के ऐसे विकेटकीपर बल्लेबाज बन गए, जिन्होंने टेस्ट मैच की चैथी पारी में 97 रन बनाकर एक रिकार्ड बना दिया है। हालांकि पहली पारी के दौरान रिषभ पंत के हेलमेट पर एक तेज गेंद आकर लगी थी, लेकिन वो फिर भी बल्लेबाजी करते रहे। हेलमेट पर बाॅल लगने के कारण वह दूसरी पारी के दौरान वे फील्ड पर नहीं उतरे। उनके स्थान पर रिद्धिमान साहा ने पूरे मैच में कीपिंग की। लेकिन उन्होंने जब भारत को मुसीबत में देख तो बल्लेबाजी करने मैदान पर उतरे। उस समय तक मैच टीम ऑस्ट्रेलिया के कब्जे में लग रहा था, लेकिन अपनी दमदार बैटिंग की बदौलत उन्होंने भारत को मुसीबत से निकालते हुए इतिहास रच दिया।

मैच के पांचवे दिन 407 रन के लक्ष्य का पीछा करते हुए भारतीय पारी लड़खड़ा रही थी, लेकिन विकेटकीपर बल्लेबाज रिषभ पंत ने नंबर 5 पर खेलते हुए पारी को संभाला और टीम के लिए तेजी से रन भी बटोरे। इस बीच शतक लगाने के चक्कर में रिषभ पंत 97 रन के निजी स्कोर पर आउट हो गए। इसी के साथ उन्होंने भारतीय टीम के लिए इतिहास रच दिया। पंत ने वो कमाल किया है, जो भारत के लिए उनसे पहले कोई भी विकेटकीपर बल्लेबाज नहीं कर पाया।

Tw

इस बेहतरीन पारी की बदौलत रिषभ पंत भारत ही नहीं बल्कि दुनिया के दूसरे बल्लेबाज बन गए, जिन्होंने टेस्ट मैच की चैथी पारी में शतक और 90 से ज्यादा रन बनाए। भारत की ओर से ऐसा करने वाले वह पहले खिलाड़ी हैं। यहां तक कि भारत के लिए चैथी पारी में भी शतक लगाने वाले वे पहले बल्लेबाज हैं। उनसे पहले सबसे बड़ा स्कोर चैथी पारी में बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज एमएस धौनी के नाम था, लेकिन 2018 में रिषभ पंत ने उनको पीछे छोड़ दिया था। पंत ने इस मुकाबले में 118 गेंदों पर 12 चैके और 3 छक्कों की मदद से 97 रन बनाए।

Add comment


Security code
Refresh