Weather Update: अगले 4-5 दिनों के दौरान उत्तर भारत में शीत लहर की संभावना नहीं

Image0014E50

नई दिल्लीः भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसार एक ताजे पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के तहत, जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में कहीं-कहीं पर बहुत अच्‍छी बारिश होने/ बर्फ पड़ने की संभावना है, जबकि 22 और 24 जनवरी के दौरान उत्तराखंड में छिटपुट बारिश/ बर्फ पड़ने की संभावना है। पंजाब और हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में 23 जनवरी, 2021 को कुछ स्‍थानों पर बहुत हल्की/हल्की बारिश/ गरज के साथ बारिश होने की संभावना है। 22 जनवरी, 2021 को जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद में और 23 जनवरी, 2021 को हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कहीं-कहीं पर गरज के साथ बिजली कड़कने और ओले पड़ने की संभावना है।

अगले 48 घंटों (23 -24 जनवरी) के दौरान न्यूनतम तापमान 2-4 डिग्री सेल्सियस बढ़ने और उसके बाद के 48 घंटों (25-26 जनवरी) को उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में तापमान 2-4 डिग्री सेल्सियस कम होने की संभावना है।

23 से 26 जनवरी के दौरान असम,  मेघालय, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में तथा 23 जनवरी, 2021 की सुबह उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में कहीं-कहीं पर घने से बहुत घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

मौसम आउटलुक:

22 जनवरी (पहला दिन): उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ इलाकों में घने से बहुत घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के कुछ स्थानों में गरज के साथ बिजली कड़कने और ओले पड़ने की संभावना है।

उत्‍तर-पश्चिमी अरब सागर के ऊपर तेज हवाएं (गति 45-55 किमी प्रति घंटे हो सकती है) चलने की संभावना है। मछुआरों को समु्द्र में न जाने की सलाह दी गई है।

23 जनवरी (दूसरा दिन ): असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में कुछ स्‍थानों पर घने से बहुत घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में कुछ स्थानों पर गरज के साथ बिजली चमकने, ओले पड़ने तथा जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद के कुछ स्‍थानों पर बिजली कड़कने की संभावना है।

जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुज़फ्फराबाद के कुछ स्‍थानों में भारी बारिश होने/बर्फ पड़ने की संभावना है।

उत्‍तर-पश्चिमी अरब सागर के ऊपर तेज हवाएं (गति 45-55 किमी प्रति घंटे हो सकती है) चलने की संभावना है। मछुआरों को समु्द्र में न जाने की सलाह दी गई है।

24 जनवरी (तीसरा दिन): असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ स्‍थानों पर घने से बहुत घना कोहरा पड़ने तथा पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली के कुछ भागों में घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

25 जनवरी (चौथा दिन): असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ स्‍थानों पर घने से बहुत घना और पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ स्‍थानों पर घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

26 जनवरी (पांचवां दिन): असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा के कुछ स्‍थानों पर घने से बहुत घना और पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ स्‍थानों पर घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

अलगे दो सप्‍ताहों (21 जनवरी से 3 फरवरी, 2021) के दौरान मौजूदा मौसम की स्थिति और आउटलुक-

मुख्य विशेषताएं

• तमिलनाडु, पुदुचेरी, कराईकल, केरल और माहे, आंध्र प्रदेश तथा कर्नाटक के आसपास के क्षेत्रों में 19 जनवरी 2021 से उत्‍तर-पश्चिम मानसून की बारिश बंद हो गई है।

सप्ताह की शुरुआत में (14 से 20 जनवरी, 2021) तमिलनाडु, पुदुचेरी, कराईकल में दक्षिणी प्रायद्वीप के ऊपर गरज के साथ अच्‍छी बारिश हुई है, जबकि तमिलनाडु, पुदुचेरी और कराईकल में कहीं-कहीं पर भारी बारिश हुई है। इसके परिणामस्वरूप, दक्षिणी प्रायद्वीप में लम्‍बी अवधि औसत (एलपीए) की तुलना में 220 प्रतिशत और तमिलनाडु, पुदुचेरी तथा कराईकल में 727 प्रतिशत से अधिक बारिश हुई है।

• ताजे पश्चिमी विक्षोभ के तहत   22 से 24 जनवरी के दौरान जम्मू और कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुज़फ्फराबाद और हिमाचल प्रदेश में दूर-दूर तक बारिश/अच्‍छी बारिश/हिमपात होने, जबकि उत्तराखंड में कहीं-कहीं बारिश/हिमपात होने की संभावना है। पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली में 23 जनवरी, 2021 को कहीं-कहीं पर बहुत हल्‍की/हल्‍की बारिश होने, गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। इसी दौरान जम्मू-कश्मीर, गिलगित-बाल्टिस्तान, मुजफ्फराबाद के कुछ स्‍थानों पर भारी बारिश/हिमपात होने की संभावना है।

• कल सुबह तक न्यूनतम तापमान में कोई विशेष परिवर्तन होने की संभावना नहीं है। तापमान में 23-24 जनवरी के दौरान 2 से 4 डिग्री सेल्सियस की बढ़ोतरी होने और उत्तर-पश्चिम भारत के मैदानी इलाकों में इसके बाद के 48 घंटों (25 -26 जनवरी, 2021) में तापमान 2-4 डिग्री सेल्सियस गिरने की संभावना है।

• अगले 4-5 दिनों के दौरान उत्तरी भारत में शीत लहर की स्थिति नहीं होगी।

22 से 26 जनवरी के दौरान असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में कहीं-कहीं पर घने से बहुत घना कोहरा पड़ने तथा 22 से 23 जनवरी के दौरान सुबह के समय उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल में तथा 22, 25, 26 जनवरी के दौरान पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ में कुछ स्‍थानों पर घने से बहुत घना कोहरा पड़ने की संभावना है।

Add comment


Security code
Refresh