लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र में होगा बदलाव, केन्द्र सरकार कर रही तैयारी

Indian Wedding

नई दिल्लीः केन्द्र सरकार जल्द ही लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र में बदलाव करने जा रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि केंद्र सरकार जल्द ही लड़कियों के लिए शादी की न्यूनतम आयु को संशोधित करने पर निर्णय करेगी। लड़कियों की शादी की न्यूनतम उम्र में बदलाव के लिए एक समिति गठित की गई है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद फैसला लिया जाएगा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि शिक्षा में लड़कियों का कुल नामांकन अनुपात देश में पहली बार लड़कों की तुलना में अधिक हो गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 6 वर्षों में सरकार द्वारा इस दिशा में किए गए कई प्रयासों के कारण ये हो सका है।

इसके अलावा पीएम ने हाल ही में किए गए कृषि सुधारों को देश में कृषि क्षेत्र के विस्तार और किसानों की आय बढ़ाने की दिशा में ‘महत्वपूर्ण’ करार दिया और स्पष्ट किया कि न्यूनतम समर्थन मूल्य और सरकारी खरीद देश की खाद्य सुरक्षा का अहम हिस्सा हैं और इसका जारी रहना आवश्यक है तथा सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध है।

प्रधानमंत्री ने ये बातें शुक्रवार को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन (एफएओ) की 75वीं वर्षगांठ के अवसर पर आयोजित एक कार्यक्रम में कही। इस अवसर पर उन्होंने 75 रुपये का स्मारक सिक्का जारी किया. साथ ही हाल ही में विकसित की गई आठ फसलों की 17 जैव संवर्धित किस्मों को भी राष्ट्र को समर्पित किया।

प्रधानमंत्री ने इस दौरान अपने संबोधन में कुपोषण के खिलाफ सरकार द्वारा उठाए गए कदमों और कृषि के क्षेत्र में किए गए सुधारों को लेकर विस्तार से अपनी बात रखी और कहा कि देश में निरंतर ऐसे सुधार किए जा रहे हैं जो वैश्विक खाद्य सुरक्षा के प्रति भारत की प्रतिबद्धता को दिखाते हैं।

उन्होंने कहा, ‘हाल में जो तीन बड़े कृषि सुधार हुए हैं, वे देश के कृषि क्षेत्र का विस्तार करने में और किसानों की आय बढ़ाने में बहुत महत्वपूर्ण कदम है।’ उन्होंने कहा कि किसानों को लागत का डेढ़ गुणा दाम न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) के रूप में मिले, इसके लिए अनेक कदम उठाए गए हैं. उन्होंने कहा कि इन सुधारों के जरिए किसान को ज्यादा विकल्प देने के साथ ही उन्हें कानूनी रूप से संरक्षण देने का भी काम किया गया है।

Add comment


Security code
Refresh