कृषि बिल के विरोध में किसानों ने शुरू किया देशव्यापी आंदोलन, आज भारत बंद का आह्वान

Protest

नई दिल्लीः हाल ही में संसद में पारित 3 कृषि बिलों से देशभर के किसानों में रोष व्याप्त है। इसके विरोध में किसान संगठनों ने शुक्रवार को देशव्यापी आंदोलन का आह्वान किया है। हालांकि, आंदोलन का असर पंजाब और हरियाणा में अधिक दिखाई दे रहा है। पंजाब के किसान वीरवार को रेल की पटरियों पर बैठे रहे। रेल रोको आंदोलन को देखते हुए, रेलवे ने शनिवार तक 20 विशेष ट्रेनों को आंशिक रूप से रद्द कर दिया और 5 को गंतव्य से पहले रोक दिया। दूसरी तरफ, हरियाणा में किसानों और कारीगरों ने हाईवे को जाम करने की चेतावनी दी है। उधर, यूपी में भी सपा ने किसान कर्फ्यू और जाम का आह्वान किया है।

Also read: Farm Bill: दिल्ली-मेरठ-नोएडा हाईवे बंद, किसान सड़कों पर गुड़गुड़ा रहे हुक्का

बता दें कि पंजाब में, किसान मजदूर संघर्ष समिति ने 3 दिन का रेल रोको आंदोलन करने की घोषणा की है, जिसे अन्य किसान संगठनों का भी समर्थन प्राप्त है। किसानों ने अमृतसर और फिरोजपुर में रेल पटरियों पर कब्जा कर लिया। भारतीय किसान यूनियन (एकता उग्राहन) के कार्यकर्ताओं ने गुरुवार सुबह बरनाला और संगरूर में रेल पटरियों को अवरुद्ध कर दिया। पंजाब के 31 किसान संगठनों ने 25 सितंबर को पूर्ण बंद का ऐलान किया है। इस बीच, रेलवे ने कहा, अनलॉक के बाद अर्थव्यवस्था में सुधार हो रहा है, ऐसी स्थिति में रेल सेवा के बाधित होने से आवश्यक वस्तुओं और खाद्यान्नों का परिवहन बुरी तरह प्रभावित होगा।

Tw

अखिल भारतीय किसान संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर प्रस्तावित भारत बंद के दौरान शुक्रवार को हरियाणा में बाजार और मंडियां बंद रहेंगी। किसानों ने प्रमुख सड़कों और रेल पटरियों पर जाम की चेतावनी दी है।

Also read: प्रसिद्ध गायक एसपी बालासुब्रमण्यम का निधन, कोरोना वायरस से थे संक्रमित

यूपी में सपा सभी जिलों में धरना प्रदर्शन करेगी। कांग्रेस 28 सितंबर को विधान भवन का घेराव करेगी और शुक्रवार से 31 अक्टूबर तक किसान जागरूकता अभियान चलाएगी।

केंद्र सरकार ने हाल ही में संसद से कृषि सुधारों से संबंधित तीन विधेयक पारित किए हैं। ये हैं कृषि उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) विधेयक -2010, किसान (सशक्तीकरण और संरक्षण) मूल्य आश्वासन समझौता विधेयक -2010 और कृषि सेवा विधेयक -2020। किसानों को डर है कि संसद द्वारा पारित विधेयक न्यूनतम समर्थन मूल्य को समाप्त करने का रास्ता खोलेगा और उन्हें बड़े कॉर्पोरेटों की दया पर रहना होगा।

Also read: Bihar Election: निवार्चन आयोग ने की घोषणा, तीन चरणों में होगा मतदान, जाने खास बातें...

किसानों पर बिलों की आशंका के बीच, कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कांग्रेस पर देश को गुमराह करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा, कांग्रेस ने पिछले दिनों कृषि उत्पाद को आवश्यक वस्तु अधिनियम और विधेयक के प्रावधानों से हटाने की वकालत की थी। कांग्रेस की यह राजनीति देश को कमजोर करेगी।

पंजाब में रेल ट्रैक पर प्रदर्शन के मद्देनजर रेलवे ने 26 सितंबर तक पंजाब की ओर जाने वाली कई ट्रेनों को रद्द कर दिया है। कई ट्रेनों को अंबाला कैंट, सहारनपुर और दिल्ली स्टेशनों पर ही समाप्त किया जा रहा है।

किसान आंदोलन के मद्देनजर अंबाला-लुधियाना, चंडीगढ़-अंबाला रेल मार्ग को बंद कर दिया गया है। इस वजह से, रेलवे ने परिवर्तित मार्ग पर चलने वाली लगभग दो दर्जन ट्रेनों को रद्द कर दिया है।

 

Add comment


Security code
Refresh