Covid Test: भारत ने बनाया रिकॉर्ड , पिछले 24 घंटे में 12 लाख से अधिक कोविड जांच

Graph

नई दिल्लीः भारत ने कोविड -19 के खिलाफ लड़ाई में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर पार कर लिया है। एक ऐतिहासिक उपलब्धि के रूप में देश में पहली बार, एक ही दिन में रिकॉर्ड 12 लाख से अधिक कोविड जांचें की गईं। पिछले 24 घंटों में किए गए 12,06,806 परीक्षणों के साथ, कुल संख्या लगभग 6.36 करोड़ (6,36,61,060) के पार हो चुकी है।

देश में हो रही यह व्यापक वृद्धि कोविड-19 की जांच के बुनियादी ढांचे के विस्तार और विकास को प्रदर्शित करता है। देश की जांच क्षमता कई गुना बढ़ चुकी है। 8 अप्रैल को देश में प्रतिदिन केवल 10,000 जांच करने की उपलब्धता थी, वहीँ आज दैनिक औसत 12 लाख को पार कर गया है। पिछले एक करोड़ परीक्षण केवल 9 दिनों में ही किए गए थे।

उच्च जांच क्षमता से कोविड के सकारात्मक मामलों की शीघ्र पहचान हो जाती है और समय पर प्रभावी उपचार भी मिल जाता है। जिससे मृत्यु दर को कम करने में काफी मदद मिलती है।

Also read: सरकार ने शेल कंपनियों को बंद करने के लिए शुरू किया विशेष अभियान

हालिया आंकड़ों से यह जानकारी मिली है कि परीक्षण की उच्च संख्या के बाद भी कोविड के सकारात्मक मामलों की संख्या में कमी आई है। दैनिक सकारात्मकता आंकड़ों में आई तेज गिरावट से यह पता चलता है कि संक्रमण के प्रसार की दर घटी है। भारत की दैनिक जांच संख्या दुनिया में सबसे अधिक है।

कोविड- 19 को लेकर केंद्र सरकार लगातार नीतियां बना रही है। लोगों की स्वास्थ्य चिंता को ध्यान में रख कर केंद्र सरकार ने सुरक्षा उपायों के मद्देनज़र व्यापक परीक्षण की सुविधा के तहत, हाल ही में पहली बार व्यक्ति-विशेष के अनुरोध पर जांच कराने की व्यवस्था दी है। परीक्षणों की संख्या बढ़ाने के साथ-साथ इसके तौर-तरीकों को सरल बनाने के लिए भी राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों को और अधिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जा रही हैं।

Also read: बेरोजगार हो गई 'पीएम मोदी का टैटू' बनवाने वाली रांची की लड़की

केंद्र सरकार ने किसी भी पंजीकृत चिकित्सक के पर्चे पर कोविड -19 की जांच करने की अनुमति दे दी है, अब इसके लिए विशेष रूप से किसी सरकारी डॉक्टर की आवश्यकता नहीं है। केंद्र ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को निजी चिकित्सकों सहित सभी योग्य चिकित्सकों द्वारा जल्द से जल्द जांच कराने अनुमति देने में सक्षम बनाने की सुविधा देने के लिए तत्काल कदम उठाने की सलाह दी है, ताकि भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद-आई.सी.एम.आर के दिशा-निर्देशों के अनुसार परीक्षण के लिए मानदंडों को पूरा करने वाले किसी भी व्यक्ति की कोविड जांच कराई जा सके।

जांच की क्षमता को लगातार बढ़ाना 'चेज़ द वायरस' रणनीति का एक अभिन्न हिस्सा है, जिसका उद्देश्य संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए प्रत्येक अनुपस्थित व्यक्ति को इसके दायरे में लाना है। राज्यों को सलाह दी गई है कि सभी लक्षण नकारात्मक होने वाले रैपिड एंटीजन टेस्ट अनिवार्य रूप से आरटी-पीसीआर के अधीन होंगे।

Also read: सितंबर माह में अप्रैल-मई जैसी गर्मी, जानें आखिर क्या है कारण...

देश भर में आसान जांच सुविधा उपलब्ध कराने के लिए विस्तारित डायग्नोस्टिक लैब नेटवर्क और सरलीकृत प्रक्रिया ने बढ़ी हुई परीक्षण संख्या को और अधिक बढ़ावा दिया है।

टेस्ट प्रति मिलियन संख्या (टीपीएम) बढ़कर 46,131 तक पहुंच गई है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन-डब्ल्यूएचओ की 140 जांच प्रतिदिन दिन प्रति 10 लाख की आबादी के दिशा निर्देशों को पूरा करने में भारत ने उल्लेखनीय प्रदर्शन किया है। कोविड-19 के संदर्भ में सार्वजनिक स्वास्थ्य और सामाजिक उपायों को समायोजित करने के लिए "सार्वजनिक स्वास्थ्य मानदंड" पर डब्ल्यूएचओ ने अपने मार्गदर्शन में इस रणनीति की अपनाने की सलाह दी है।

Also read: आजमगढ़ में 4 सीटर एयरक्राफ्ट क्रैश, प्रशिक्षु पायलट की मौत

उपलब्धियों की एक और पंक्ति में, 35 राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों ने परीक्षणों की निर्धारित संख्या को पार कर लिया है।

देश में लगातार बढ़ रही जांच सुविधाओं से जांचों की संख्या में भी वृद्धि हो रही है और इसका सबसे अधिक श्रेय भारत में तेजी से फैलने वाला नैदानिक ​​प्रयोगशाला नेटवर्क को जाता है। आज हमारे देश में कोविड की जांच करने वाली 1,773 लैब हैं, जिनमें सरकारी क्षेत्र की 1,061 लैब और निजी क्षेत्र की 712 प्रयोगशालाएं शामिल हैं। ये इस प्रकार से हैं:-

Also read: डेरेक ओ ब्रायन, संजय सिंह सहित 8 राज्यसभा सांसद एक सप्ताह के लिए निलंबित

• वास्तविक समय आरटी पीसीआर आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 902 (सरकार: 475 + निजी: 427)

• ट्रूनेट आधारित परीक्षण प्रयोगशाला: 746 (सरकार: 552 + निजी: 194)

• सीबीएनएएटी आधारित परीक्षण प्रयोगशालाएं: 125 (सरकार: 34 + निजी: 91)

कोविड-19 से संबंधित तकनीकी मुद्दों पर सभी प्रामाणिक और अद्यतन जानकारी, दिशा-निर्देश और सलाह के लिए नियमित रूप से देखें: https://www.mohfw.gov.in/ और @MoHFW_INDIA

कोविड-19 से संबंधित तकनीकी प्रश्न This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. और अन्य प्रश्नों के लिए @CovidIndiaSeva तथा  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. पर संपर्क किया जा सकता है।

कोविड-19 से सम्बंधित किसी भी जानकारी को पाने के लिए, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के हेल्पलाइन नंबर: + 91-11-23978046 या फिर (टोल-फ्री) 1075 पर कॉल करें। कोविड-19 पर राज्यों तथा केंद्र शासित प्रदेशों के हेल्पलाइन नंबरों की सूची https://www.mohfw.gov.in/pdf/coronvavirushelplinenumber.pdf पर भी उपलब्ध है।

Also read: गांधी सेतु के समानान्तर नए 4 लेन पुल का निर्माण, उत्तर-दक्षिण बिहार को मिलेगी ट्रैफिक से निजात

Add comment


Security code
Refresh