केंद्रीय विद्यालय में एडमिशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया 1 अप्रैल से शुरू

KV

नई दिल्ली: शैक्षणिक वर्ष 2021-2022 के लिए केंद्रीय विद्यालय की प्रथम कक्षा में एडमिशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 1 अप्रैल 2021 से शुरू होगा जबकि दूसरी कक्षा और इससे ऊपर की कक्षाओं के लिए पंजीकरण ऑफलाइन मोड में 8 अप्रैल 2021 से शुरू किए जाएंगे। पहली क्लास के लिए ऑनलाइन पंजीकरण 1 अप्रैल 2021 को सुबह 10:00 बजे से शुरू होगा और 19 अप्रैल 2021 को शाम 7:00 बजे बंद होगा। एडमिशन के लिए अधिक जानकारी https://kvsonlineadmission.kvs.gov.in वेबसाइट पर या एंड्रॉइड मोबाइल ऐप के जरिए भी प्राप्त की जा सकती है।

शैक्षणिक वर्ष 2021-2022 के लिए प्रथम कक्षा मेंकेवीएस ऑनलाइन एडमिशन हेतु ऐप डाउनलोड और इंस्टॉल करने के लिए निर्देश और आधिकारिक एंड्रॉइड मोबाइल ऐप https://kvsonlineadmission.kvs.gov.in/apps और गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध होंगे।

दूसरी कक्षा और इससे ऊपर की कक्षाओं के लिए रजिस्ट्रेशन सीटों की उपलब्धता के आधार पर 08.04.2021 को सुबह 8 बजे से 15.04.2021 को शाम 4 बजे तक ऑफलाइन मोड में मंगाए जाएंगे।

ग्यारहवीं कक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म्स,केवीएस (एचक्यू) की वेबसाइट (https://kvsangathan.nic.in)पर उपलब्ध 2021-2022 में एडमिशन के लिए तय शेड्यूल, के अनुसार विद्यालय की वेबसाइट से डाउनलोड किए जा सकते हैं।

सभी कक्षाओं के लिए आयु की गणना 31.03.2021 तक की जाएगी। सीटों का आरक्षण वेबसाइट (https://kvsangathan.nic.in) पर उपलब्ध केवीएस एडमिशन दिशानिर्देश के अनुसार होगा।

कोविड-19 की वर्तमान स्थिति को देखते हुए, केवीएस सभी अभिभावकों से अनुरोध है कि वह सक्षम प्राधिकारी (केंद्र/राज्य/स्थानीय) द्वारा जारी निर्देशों का पालन करें।

वर्तमान में, केंद्रीय विद्यालय संगठन 1247 केवी की श्रृंखला चला रहा है।

Comments   

0 #2 BruteBankCod 2021-04-03 06:29
Hacking Programs are pieces of programs created to help you with hacking or that users can utilise for hacking purposes
here you will find a lot of useful things.(Carding,Spam,Tutorial,Bank,CC,Brute,Cheker and other )

Subscribe to the channel @flash_code_tools
Quote
0 #1 AlfonsoJag 2021-03-31 01:17
The pattern circumstance I saw Gail Dines discourse with, at a convention in Boston, she moved the audience to tears with her portrait of the problems caused nearby dirt, and provoked chortling with her spicy observations about pornographers themselves. Activists in the audience were newly inspired, and men at the end – sundry of whom had not till hell freezes over viewed smut as a disturbed before – queued up afterwards to guaranty their support. The exhibition highlighted Dines's unsound charisma and the factually that, since the death of Andrea Dworkin, she has risen to that most sensitive and spellbinding of public roles: the community's leading anti-pornography campaigner.

lingerie-madame
Quote

Add comment


Security code
Refresh