Toolkit Case: एक्टिविस्ट दिशा और शांतनु से दिल्ली पुलिस साइबर सेल में चल रही पूछताछ

Disha

नई दिल्लीः किसान आंदोलन (Farmer Protest) को समर्थन देने के लिए टूलकिट जांच के मामले में गिरफ्तार पर्यावरण एक्टिविस्ट (Climate activist) दिशा रवि (Disha Ravi) और इंजीनियर शांतनु मुलुक (Shantanu Muluk) को आगे की पूछताछ के लिए दिल्ली पुलिस साइबर सेल (Cyber Cell) के आफिस ले जाया गया है। दिल्ली पुलिस (Delhi Police) यहां पर दोनों को आमने-सामने बैठाकर पूछताछ करेगी। बता दें कि दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट (Patiala House Court) ने सोमवार को 21 वर्षीय दिशा रवि को आगे की पूछताछ के लिए एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया था। 

मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट पंकज शर्मा की अदालत में दिल्ली पुलिस ने इस मामले में अन्य सह-आरोपियों से दिशा का आमना-सामना कराने की बात कही थी। कोर्ट ने पुलिस को दिशा से पूछताछ के लिए एक दिन की रिमांड में पूछताछ की अनुमति दी थी। दिशा को किसानों के विरोध प्रदर्शन से संबंधित एक ‘टूलकिट’ सोशल मीडिया पर शेयर करने के आरोप में दिल्ली पुलिस ने 13 फरवरी को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया था।

गौरतलब है कि पुलिस ने आरोप लगाया था कि ‘टूलकिट’ कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के विरोध प्रदर्शन की आड़ में भारत में अशांति पैदा करने और हिंसा फैलाने की एक वैश्विक साजिश का हिस्सा था।

गणतंत्र दिवस के दिन किसानों की ट्रैक्टर परेड के दौरान राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा से संबंधित ‘टूलकिट’ मामले की आरोपी निकिता जैकब और शांतनु सोमवार को दिल्ली पुलिस की साइबर सेल के दफ्तर पहुंचकर जांच में शामिल हुए, जहां दोनों से कई घंटों तक पूछताछ की गई थी।

दिल्ली पुलिस के टूलकिट मामले ’में साजिश के आरोपी गिरफ्तार पर्यावरण एक्टिविस्ट दिशा रवि को जमानत देने या न देने पर मंगलवार 23 फरवरी को दिल्ली की एक अदालत अपना फैसला सुनाएगी। दिल्ली पुलिस, गूगल टूलकिट ’की जांच कर रही है, जिसे जलवायु कार्यकर्ता ग्रेटा थुनबर्ग ने साझा किया, बेंगलुरु की सक्रिय कार्यकर्ता दिशा रवि को गिरफ्तार किया, जबकि निकिता जैकब और शांतनु मुलुक को अदालत ने जमानत दे दी।

निकिता जैकब और शांतनु मुलुक सोमवार को जांच में शामिल हुए। उनसे द्वारका स्थित दिल्ली पुलिस साइबर सेल कार्यालय में पूछताछ की गई।

बता दें कि ज्यादातर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के किसान, तीन नए केंद्रीय कृषि कानूनों को निरस्त करने की मांग के लिए दिल्ली में विभिन्न सीमाओं पर विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

Add comment


Security code
Refresh