मॉनसून सत्र के पहले दिन हुए टेस्ट में, 30 सांसद कोरोना पॉजिटिव

Parliament 2

नई दिल्लीः संसद के मॉनसून सत्र के पहले दिन लोकसभा के 30 सदस्य कोरोना वायरस पाॅजिटिव पाए गए हैं। सूत्रों से ज्ञात हुआ हैं कि जूनियर रेल मंत्री सुरेश अंगड़ी, भाजपा की मीनाक्षी लेखी, अनंत कुमार हेगड़े, परवेश साहिब सिंह, रीता बहुगुणा जोशी और कौशल किशोर उन 30 सांसदों में से थे, जो वायरल बीमारी से पीड़ित थे। कोरोना पाॅजिटिव लोकसभा सदस्यों ने सचिवालय को उनके स्वास्थ्य की स्थिति के बारे में सूचित किया है। 

आपको बता दें कि मॉनसून सत्र शुरू होने से पहले यह नियम बनाया गया था कि सभी सांसद और कर्मचारी कोविड टेस्ट कराएंगे, रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद ही उन्हें परिसर में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। नियम यह भी है कि उनकी रिपोर्ट 72 घंटे से ज्यादा पहले की नहीं होनी चाहिए।

Also read: चीन पीएम मोदी सहित 10 हजार भारतीयों की करा रहा जासूसी, जानें कौन-कौन हैं इसमें शामिल

हालांकि, सत्र शुरू होने से पहले दोनों सदनों के कई उम्रदराज सांसदों ने इसपर चिंता जताई थी। उनका कहना था कि सत्र शुरू होने पर गाइडलाइंस के बीच भी हर वक्त परिसर में कम से कम 2,000 लोग मौजूद रहेंगे। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, राज्यसभा के 240 सांसदों में से 97 सांसद 65 साल से ज्यादा है, वहीं 20 ऐसे सांसद हैं, जिनकी उम्र 80 साल के ऊपर है।

चूंकि ये वायरल बीमारी सत्र के लिए खतरा बनी हुई है, इसलिए कई वरिष्ठ सांसदों ने अपनी राजनीतिक एक्टिविटी में कटौती करते हुए कार्यवाही में भाग लेने का फैसला किया है। विलंबित सत्र के पहले दिन, जिसमें 359 सदस्य शामिल थे, लगभग 200 लोकसभा कक्ष में मौजूद थे और 30 से थोड़ा अधिक मुख्य कक्ष के ऊपर स्थित आगंतुक दीर्घा में बैठे थे। कोरोना के साये में शुरू हुआ मॉनसून सत्र 1 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान सख्ती से कोविड-19 गाइडलाइंस का पालन किया जा रहा है। इसके तहत फेस मास्क और सोशल डिस्टेंसिंग की अनिवार्यता बनाई गई है। वहीं सदन में हर सीट पर पॉली-कार्बन ग्लास लगाया गया है।

Also read: चीनी वैज्ञानिक ने किया बड़ा खुलासा, कोरोना वायरस वुहान लैब में हुआ तैयार

लोकसभा कक्ष में एक विशाल टीवी स्क्रीन पर राज्यसभा कक्ष में सीटों पर बैठने वाले बहुत कम सदस्य दिखाई दिए, दूसरे स्थान जहां निचले सदन के सांसदों को शारीरिक दूरी के मानदंडों को ध्यान में रखते हुए जगह दी गई है। आमतौर पर 6 सदस्यों को जगह पर केवल 3 लोगों को बैठाने का प्लान था।

बता दें कि देश में कोविड महामारी शुरू होने से लेकर मॉनसून सत्र शुरू होने के पहले तक सात केंद्रीय मंत्री और दोनों सदनों को मिलाकर लगभग दो दर्जन सांसद अब तक कोरोना वायरस से संक्रमित हो चुके हैं। यहां तक कि लोकसभा में तमिलनाडु से सांसद एच वसंतकुमार की कोरोना से मौत भी हो चुकी है। इसके अलावा देश में कई विधायकों की मौत इस भयानक वायरस से हुई है। 

Also read in english: 24 MPs of LS found corona positive in monsoon session

Add comment


Security code
Refresh