51वें IFFI महोत्सव में दर्शकों के लिए होगा ढेर सारी फिल्‍मों का प्रीमियर और प्रदर्शन

Iffi

नई दिल्लीः 51वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी) द्वारा इस बार के संस्करण के लिए सितारों से सजी फिल्मों की लंबी फेहरिस्‍त की घोषणा की गई है। यहां आने वाले दर्शकों और प्रतिनिधियों के सामने दुनियाभर की चुनिंदा फिल्मों का प्रीमियर और प्रदर्शन किया जाएगा।

इस महोत्सव का शुभारंभ फ्रांस के कान फिल्म महोत्सव में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार जीतने वाले मैड्स मिकेलसेन द्वारा अभिनीत फिल्म 'एनअदर राउंड’ के भारतीय प्रीमियर के साथ होगा। इस फिल्म का निर्देशन थॉमस विन्टरबर्ग ने किया है और ये ऑस्कर पुरस्कारों में डेनमार्क की आधिकारिक प्रविष्टि भी है।

संदीप कुमार की फिल्म 'मेहरुनिसा' का विश्व प्रीमियर महोत्सव के मध्य में होगा। फारुख जफर के अभिनय से सजी ये फिल्म एक महिला के ताउम्र के सपने की कहानी कहती है।

कियोशी कुरोसावा के निर्देशन में बनी जापानी फिल्म 'वाइफ ऑफ अ स्पाई' इस महोत्सव के मौजूदा संस्करण का समापन करेगी।

शानदार प्रदर्शनों से सजी फिल्मों के कारण यहां 'इंटरनेशनल कंपीटिशन' खंड में टक्कर कांटे की है। उम्दा सिनेमाई अनुभव देने वाली इन फिल्मों की सूची में ये फिल्में शामिल हैं -

द डोमेन - डायरेक्टर टियागो गुएडस (पुर्तगाल)
इनटू द डार्कनेस - डायरेक्टर एंडर्स रेफन (डेनमार्क)
फेबरुएरी - डायरेक्टर केमन कालेव (बुल्गारिया, फ्रांस)
माई बेस्ट पार्ट - डायरेक्टर निकोलस मौरी (फ्रांस)
आई नेवर क्राय - डायरेक्टर पियोत्र दोमालेवस्की (पोलैंड, आयरलैंड)
ला वेरोनिका - डायरेक्टर लियोनार्डो मेडेल (चिली)
लाइट फॉर द यूथ - डायरेक्टर शिन सू-वोन (दक्षिण कोरिया)
रेड मून टाइड - डायरेक्टर लोइस पातिनो (स्पेन)
ड्रीम अबाउट सोहराब - डायरेक्टर अली घावितान (ईरान)
द डॉग्स डिडन्ट स्लीप लास्ट नाइट - डायरेक्टर रामिन रसौली (अफगानिस्तान, ईरान)
द साइलेंट फॉरेस्ट - डायरेक्टर को चेन-निएन (ताइवान)
द फॉरगॉटन - डायरेक्टर डारिया ओन्शचेंको (यूक्रेन, स्विट्जरलैंड)
ब्रिज - डायरेक्टर कृपाल कलिता (भारत)
द डॉग एंड हिज़ मैन - डायरेक्टर सिद्धार्थ त्रिपाठी (भारत)
तेन - डायरेक्टर गणेश विनायकन (भारत)
बांग्लादेश इस बार के इफ्फी महोत्सव में 'कंट्री इन फोकस' वाला देश है। किसी देश की सिनेमाई उत्कृष्टता और योगदान को मान्यता देने वाले इस विशेष खंड में इन फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा:

जिबोंधुली - डायरेक्टर तनवीर मोकामेल
मेघमल्लार - डायरेक्टर ज़ाहिदुर रहमान अंजान
अंडर कंस्ट्रक्शन - डायरेक्टर रुबाइयत हुसैन
सिन्सियरली योर्स, ढाका - डायरेक्टर नुहाश हुमायूं, सैयद अहमद शौकी, राहत रहमान जॉय, एमडी रोबीउल आलम, गोलम किब्रिया फारूकी, मीर मुकर्रम हुसैन, तनवीर अहसान, महमूदुल इस्लाम, अब्दुल्ला अल नूर, कृष्णेंदु चट्टोपाध्याय, सैयद सालेह अहमद सोभान
‘फेस्टिवल कैलाइडोस्‍कोप’ खंड की बात करें तो इसमें दुनिया भर से शामिल की गई 12 फिल्में दर्शकों की प्रतीक्षा करेंगी। इनमें ये फिल्में शामिल हैं:

वी स्टिल हैव द डीप ब्लैक नाइट - डायरेक्टर गुस्तावो गैल्वो (ब्राज़ील, जर्मनी)
विंडो बॉय वुड ऑल्सो लाइक टू हैव अ सबमरीन - डायरेक्टर एलेक्स पीपेर्नो (उरुग्वे)
फॉरगॉटन वी विल बी - डायरेक्टर फर्नेंडो ट्रूएबा (कोलंबिया)
हाइफा स्ट्रीट - डायरेक्टर मोहनद हयाल (इराक)
लव अफेय(र्स) - डायरेक्टर इमैनुएल मोरे (फ्रेंच)
एपल्स - डायरेक्टर क्रिस्टोस नीकोउ (ग्रीस)
पार्थेनॉन - डायरेक्टर मेंटास क्वेड्रवीसस (लिथुआनिया)
माई लिटिल सिस्टर - डायरेक्टर स्टेफेनी चुआ, वेरोनीक रेमंड (स्विट्जरलैंड)
द डेथ ऑफ सिनेमा एंड माई फादर टू - डायरेक्टर डानी रोज़ेनबर्ग (इज़रायल)
द बिग हिट - डायरेक्टर इमैनुएल कॉरकोल (फ्रांस)
वैली ऑफ द गॉड्स - डायरेक्टर लेक मायेवस्की (पोलैंड)
नाइट ऑफ द किंग्स - डायरेक्टर फिलिप लेकोत (फ्रांस)

इफ्फी के इस बार के संस्करण में एक विशेष खंड के जरिए दुनिया भर में मशहूर, महान फिल्मकार सत्यजीत रे को ट्रिब्यूट दी जाएगी और उनकी पांच फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा।

चारुलता (1964)
घरे बायरे (1984)
पाथेर पांचाली (1955)
शतरंज के खिलाड़ी (1977)
सोनार केल्ला (1974)
बीते साल दुनिया को अलविदा कह गए सिनेमा जगत के दिग्गजों को श्रद्धांजलि देने वाले एक खंड में इफ्फी उनके योगदान को सेलिब्रेट करेगा, ‘हॉमेजसेक्शन’ में उनकी ये फिल्में दिखाई जाएंगी –

अंतर्राष्ट्रीय हस्तियों को श्रद्धांजलि

चैडविक बोज़मैन
42, डायरेक्टर – ब्रायन हेल्गलैंड

ईवान पासर
कटर्स वे, डायरेक्टर – ईवान पासर

गोरान पास्कलजेविच
देव भूमि, डायरेक्टर – गोरान पास्कलजेविच

एलन डेवियो
द एक्स्ट्रा टेरेस्ट्रियल, डायरेक्टर – स्टीवन स्पीलबर्ग

मैक्स वॉन साइडो
एक्स्ट्रीमली लाउड एंड इनक्रेडेबली क्लोज़, डायरेक्टर – स्टीफन डॉल्ड्री

सर एलन पार्कर
मिडनाइट एक्सप्रेस, डायरेक्टर – एलन पार्कर

कर्क डगलस
पाथ्स ऑफ ग्लोरी, डायरेक्टर – स्टैनली कुबरिक

एनियो मोरीकोन
द हेटफुल ऐट, डायरेक्टर – क्वेंटिन टैरेंटीनो

ओलिविया डी हैविलैंड
द एयरेस, डायरेक्टर विलियम वाइलर

भारतीय हस्तियों को श्रद्धांजलि

अजित दास
तारा, डायरेक्टर – बिजया जेना

बासु चटर्जी
छोटी सी बात, डायरेक्टर – बासु चटर्जी

भानु अथैया
गांधी, डायरेक्टर – रिचर्ड एटनबरो

बिजय मोहंती
चिल्लिका तीरे, डायरेक्टर – बिप्लब रॉय चौधरी

इरफान खान
पान सिंह तोमर, डायरेक्टर – तिग्मांशु धूलिया

जगदीप
ब्रह्मचारी, डायरेक्टर – भप्पी सोनी

कुमकुम
बसंत बहार, डायरेक्टर – राजा नवाठे

मनमोहन महापात्रा
भीजा मतिरा स्वर्गा, डायरेक्टर – मनमोहन महापात्रा

निम्मी
बसंत बहार, डायरेक्टर – राजा नवाठे

निशिकांत कामत
डोंबीवली फास्ट, डायरेक्टर – निशिकांत कामत

राहत इंदौरी
मिशन कश्मीर, डायरेक्टर – विधु विनोद चोपड़ा

ऋषि कपूर
बॉबी, डायरेक्टर – राज कपूर

सरोज खान
देवदास, डायरेक्टर – संजय लीला भंसाली

एस. पी. बालासुब्रमण्यम
सिंगारम, डायरेक्टर – अनंतू

श्रीराम लागू
एक दिन अचानक, डायरेक्टर – मृणाल सेन

सौमित्र चटर्जी
चारुलता, घरे बायरे, सोनार केल्ला, डायरेक्टर – सत्यजीत रे

सुशांत सिंह राजपूत
केदारनाथ, डायरेक्टर – अभिषेक कपूर

वाजिद खान
दबंग, डायरेक्टर – अभिनव कश्यप

योगेश गौड़
छोटी सी बात, डायरेक्टर – बासु चटर्जी

उपरोक्त श्रृंखला के अलावा विभिन्न अन्य फीचर भी इस साल के महोत्सव को सुशोभित करेंगे। मास्टरक्लास में श्री शेखर कपूर, श्री प्रियदर्शन, श्री पेरी लैंग, श्री सुभाष घई, तनवीर मोकामेल की उपस्थिति होगी।

'इन-कॉन्वर्सेशन' सत्रों में श्री रिकी केज, श्री राहुल रवैल, श्री मधुर भंडारकर, श्री पाब्लो सीज़र, श्री अबू बाकर शौकी, श्री प्रसून जोशी, श्री जॉन मैथ्यू मथान, सुश्री अंजलि मेनन, श्री आदित्य धर, श्री प्रसन्ना विथांगे, श्री हरिहरन, श्री विक्रम घोष, सुश्री अनुपमा चोपड़ा, श्री सुनील दोषी, श्री डोमिनिक संगमा और श्री सुनीत टंडन हिस्सा लेंगे।

'फिल्म एप्रीसिएशन' सत्र में भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान के प्रो. मजहर कामरान, प्रो. मधु अप्सरा, प्रो. पंकज सक्सेना मौजूद रहेंगे।

इस वर्ष की अंतर्राष्ट्रीय ज्यूरी में पाब्लो सीज़र (अर्जेंटीना) बतौर अध्यक्ष, प्रसन्ना विथांगे (श्रीलंका), अबू बाकर शौकी (ऑस्ट्रिया), प्रियदर्शन (भारत) और सुश्री रूबैत हुसैन (बांग्लादेश) शामिल हैं।

पृष्ठभूमिः 

1952 में स्थापित किया गया भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (इफ्फी), एशिया के सबसे महत्वपूर्ण फिल्म समारोहों में से एक है। सालाना आयोजित होने वाला ये महोत्सव वर्तमान में गोवा में होता है। इस महोत्सव का उद्देश्य सारी दुनिया के सिनेमा के लिए एक समान मंच मुहैया करवाना है ताकि फिल्म कला की उत्कृष्टता को प्रस्तुत किया जा सके, अलग अलग देशों के सामाजिक और सांस्कृतिक लोकाचार के संदर्भ में इन देशों की फिल्म संस्कृतियों की समझ और सराहना में योगदान देना, और दुनिया के लोगों के बीच दोस्ती और सहयोग को बढ़ावा देना है। इस महोत्सव का संचालन फिल्म समारोह निदेशालय (सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के अंतर्गत) और गोवा सरकार के संयुक्त तत्वावधान में किया जाता है।

51वां इफ्फी महोत्सव 16 से 24 जनवरी, 2021 तक आयोजित किया जा रहा है। इस संस्करण को पहली बार हाइब्रिड तरीके से आयोजित किया जा रहा है और इसमें ऑनलाइन और व्यक्तिगत दोनों तरह के अनुभव शामिल होंगे। इस महोत्सव में चर्चित फिल्मों की भरमार होगी, जहां पूरी दुनिया से कुल 224 फिल्मों का प्रदर्शन किया जाएगा। इसमें भारतीय पैनोरमा फिल्म खंड के अंतर्गत 21 गैर-फीचर फिल्में और 26 फीचर फिल्में भी शामिल हैं।

इफ्फी की वेबसाइट:https://iffigoa.org/

इफ्फी के सोशल मीडिया हैंडल:
इंस्टाग्राम - https://instagram.com/iffigoa?igshid=1t51o4714uzle
ट्विटर - https://twitter.com/iffigoa?s=21
https://twitter.com/PIB_panaji
फेसबुक - https://www.facebook.com/IFFIGoa/