आप विधायक अलका लांबा बैठीं नशे के खिलाफ धरने पर

alka
  • नशे के खिलाफ मजनूं का टीला इलाके में अलका लांबा धरने पर बैठी 
  • दो घंटे तक चले इस कार्यक्रम में अलका लांबा ने स्थानीय पुलिस पर साधा निशाना 
  • सरेआम नशा बेचे जाने को लेकर पुलिस को ठहराया जिम्मेदार 
  • अलका ने कहा कि अगर पुलिस सख्ती से कार्रवाई नही करेगी तो यह लड़ाई जारी रहेगी

नई दिल्ली(बसंत झा)

नए साल के पहले दिन नशे के खिलाफ आम आदमी पार्टी से विधायक अलका लाबा ने मंगलवार को मजनूं का टीला इलाके में कार्यक्रम के तहत धरने पर  बैठी।  इस अवसर पर हजारों की संख्या में महिलाओं और युवाओं ने भाग लिया। इस दौरान विधायक अलका लाबा ने कहा कि आज के समय यहां के आने वाली पीढी खासतौर पर युवा नशे की चपेट में आकर अपना भविष्य खराब कर रहे है। वही दूसरी तरफ इस मजनूं का टीला क्षेत्र में नशा खुले आम बिकने की वजह से यहां पर चोरी झपटमारी, जैसी कई घटनाएं बढ गई है वही यहां पर रहने वाली महिलाएं और बच्चे भी अपने को असुरक्षित महसूस कर रहे है। इसके पीछे सबसे बडी वजह यहां पर जगह-जगह धड़ल्ले से बिकने वाला तमाम प्रकार का नशा है।  जब 2015 में विधानसभा चुनाव हो रहे थे तो उस वक्त यहां के लोगों की मुझसे यही मांगा थी कि यहां पर नशे का कारोबार पूरी तरह से बंद करवाया जाए, और इसी शर्त पर यहां की जनता ने मुझे विधानसभा में चुन कर भेजा था । ऐसे में मेरा भी कर्तव्य बनता है कि नशे के कारोबार को यहां पर बंद करवाया जाए, और इस दौरान उन्होने स्थानीय पुलिस पर जमकर हमला बोलते हुए आरोप लगाया कि नशा कारोबार पर पूरी तरह से स्थानीय पुलिस का प्राप्त संरक्षण है। जिसके चलते यहां पर नशा सरेआम बिक रहा है। उन्होने इसके लिए खासतौर पर स्थानीय पुलिस को जिम्मेदार ठहराया है। अलका लांबा ने मुक्षे समझा नही आता है कि दिल्ली पुलिस क्यो कार्रवाई नही करती है। अगर ऐसे ही चलता रहा तो हम स्थानीय  लोग मिलकर जल्द ही इस मसले को लेकर दिल्ली पुलिस आयुक्त से मिलेगे, और उन्हे यहां की समस्या से अवगत करवाएगें। अगर इसके बाद भी कुछ नही होगा तो दिल्ली के उपराज्यपाल व गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मिलगे।

alka

दो घंटे तक चले इस कार्यक्रम के बाद स्थानीय लोगों को आासन दिया कि वह नशे के खिलाफ चल रही लडाई को अंजाम तक पहुंचा कर ही बैठेगी। इस अवसर पर आप पार्टी के लोकसभा प्रभारी पंकज गुप्ता, जिलाध्यक्ष अनिल शर्मा, संगठन मंत्री राजेश, के अलावा स्थानीय लोग बसंत रामधारी, सुरेश कोली, जोगिंदर अनिल पुरूथि अनिल हिंदूजा समेत बडी संख्या में लोगों ने भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here