भूटान के सामाजिक-आर्थिक विकास में सहयोग के लिए भारत प्रतिबद्ध : राष्ट्रपति

राष्ट्रपति भवन

नई दिल्ली, 29 दिसंबर: भूटान के प्रधानमंत्री डॉ. लोतेय त्शेरिंग ने शनिवार को राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात की। राष्ट्रपति कोविंद ने इस दौरान भूटान के सामाजिक-आर्थिक विकास में भागीदार के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया। भारत में डॉ लोतेय त्शेरिंग का स्वागत करते हुए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि भारत और भूटान के बीच औपचारिक राजनयिक संबंधों की स्थापना के स्वर्ण जयंती वर्ष में भूटानी प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करने पर उन्हें खुशी हुई। उन्होंने कहा कि भारत ने भूटान में तीसरे आम चुनावों के सफल आयोजन का स्वागत किया और चुनावों में डीएनटी की जीत पर भूटान के प्रधानमंत्री को बधाई दी। राष्ट्रपति ने भूटान के सामाजिक-आर्थिक विकास में भागीदार बनने और अपनी प्राथमिकताओं के आधार पर अपनी 12वीं पंचवर्षीय योजना का समर्थन करने के लिए भारत की प्रतिबद्धता को दोहराया। उल्लेखनीय है कि भूटान की 12वीं पंचवर्षीय योजना में भारत चार हजार, पांच सौ करोड़ रुपये का योगदान देगा। यह योगदान भूटान की आवश्यकताओं और प्राथमिकताओं के अनुरूप होगा। भूटान के प्रधानमंत्री का कार्यभार संभालने वाले डॉ लोतेय त्शेरिंग अपने पहले विदेशी दौरे पर गुरुवार को भारत पहुंचे थे।

नई दिल्ली, 29 दिसंबर: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को भूटान के प्रधानमंत्री डॉ. लोतेय त्शेरिंग के साथ मुलाकात की और क्षेत्र की राजनीतिक स्थिति पर चर्चा की। मुलाकात के बाद राहुल ने ट्वीट कर कहा, ‘‘भूटान के प्रधानमंत्री डॉ. लोतेय त्शेरिंग के साथ आज मेरी एक उत्कृष्ट मुलाकात हुई। हमने इस क्षेत्र की राजनीतिक स्थिति और आपसी हितों के अन्य विषयों पर चर्चा की। मैं भविष्य में अपनी इस तरह की बातचीत जारी रखने के लिए उत्सुक हूं।’’ पिछले महीने कार्यभार संभालने के बाद अपनी पहली विदेश यात्रा के तहत भारत दौरे पर आए त्शेरिंग गुरुवार को दिल्ली पहुंचे थे। उन्होंने शुक्रवार सुबह हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात की थी। वह आज स्वदेश लौट जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here